“ये शायद विराट कोहली एंड कंपनी के लिए है”: किसान आंदोलन पर मचे सियासी घमासान के बीच क्रिकेटर मनोज तिवारी के ट्वीट पर बोले यूजर, लोग सचिन तेंदुलकर से कर रहे हैं तुलना

0

भारतीय क्रिकेट टीम के खिलाड़ी मनोज तिवारी ने किसान आंदोलन को लेकर सोशल मीडिया पर जारी बवाल के बीच एक ट्वीट किया है, जो अब खूब वायरल हो रहा हैं। सोशल मीडिया यूजर्स उनके ट्वीट को किसान आंदोलन से जोड़कर देख रहे हैं, इसके साथ ही लोग सचिन तेंदुलकर पर भी निशाना साध रहे हैं।

मनोज तिवारी
फाइल फोटो: क्रिकेटर मनोज तिवारी

टीम इंडिया के क्रिकेटर मनोज तिवारी ने शुक्रवार को अपने ट्वीट में लिखा, “यदि आप परीक्षण किए जाने पर अपने मूल्यों से नहीं चिपके हैं, तो वे मूल्य नहीं हैं, वे शौक हैं। सोने के लिए जाने से पहले कुछ सोचना।”

मनोज तिवारी का यह ट्वीट अब सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है, उनके इस ट्वीट पर यूजर्स जमकर अपनी प्रतिक्रियाएँ दे रहे हैं। इसके साथ ही कुछ यूजर्स उनके इस ट्वीट के जरिए सचिन तेंदुलकर पर निशाना साध रहे हैं। यूजर्स कह रहे है सचिन से बेहतर मनोज हैं।

बता दें कि, मनोज तिवारी ने यह ट्वीट ऐसे समय में किया है जब देश में तीन कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के आंदोलन को लेकर ग्लोबल और देसी स्टार्स में ट्वीट वॉर छिड़ी हुई है। मनोज तिवारी बंगाल की ओर से घरेलू क्रिकेट के अलावा और कोलकाता नाइट राइडर्स, किंग्स एलेवन पंजाब और राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स की तरफ से आईपीएल क्रिकेट खेल चुके है।

तिवारी के ट्वीट पर कमेंट करते हुए एक यूजर ने लिखा, “वाह तिवारी भाई आप लोकप्रियता और पैसे कमाने के लिए खेलने और एक्टिंग करने वाले उस व्यक्तित्व से अलग निकले वर्ना सब अपना जमीर बेच चुके हैं बहुत बढ़िया खिलाड़ी के तौर से ऊपर उठकर एक व्यक्ति के तौर पर शानदार प्रदर्शन कर दिये धन्यवाद।”

एक अन्य यूजर ने लिखा, “एक ही दिल है मनोज भाई कितनी बार जीतोगे।” एक अन्य ने लिखा, “ये शायद विराट कोहली एंड कंपनी के लिए है।” एक अन्य यूजर ने लिखा, “अक्षय कुमार, सचिन तेंदुलकर नहीं समझेंगे।” बता दें कि, इसी तरह तमाम यूजर्स उनके ट्वीट पर कमेंट कर रहे हैं।

देखें कुछ ऐसे ही ट्वीट:

 

गौरतलब है कि, हॉलीवुड पॉप स्टार रिहाना, पर्यावरण एक्टिविस्ट ग्रेटा थनबर्ग, मिया खलीफा ने किसान आंदोलन के समर्थन में ट्वीट किया था, जिसके जवाब में कई भारतीय क्रिकेटरों और बॉलीवुड सितारों ने जवाबी ट्वीट किए थे कि यह हमारा घरेलू मामला है और इसमें विदेशी दखल की जरूरत नहीं है।

रिहाना ने किसान आंदोलन का समर्थन करते हुए एक ट्वीट किया था। रिहाना ने किसान आंदोलन की एक तस्वीर शेयर करते हुए लिखा, ‘हम इस बारे में क्यों नहीं बात कर रहे हैं? हैशटैग फार्मर प्रोटेस्ट।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here