हार्दिक पंड्या की आपबीती सुनकर नहीं रोक पाएंगे अपने आंसू

0

भारतीय क्रिकेट टीम के स्टार ऑलराउंडर हार्दिक पंड्या ने हाल ही में एक इंटरव्यू के दौरान कई ऐसे खुलासे किए है, जिससे सुनकर शायद आप अपने आंसू नहीं रोक पाएंगे। इस इंटरव्यू में उन्होंने अपने मुश्किल दिनों को याद किया और बताया कि कैसे गाड़ी की ईएमआई न चुका पाने के कारण उन्हें अपनी कार को छुपाना पड़ा था।

हार्दिक पंड्या
फाइल फोटो- हार्दिक पंड्या

शो ‘ब्रेकफास्‍ट विद चैंपियस’ में गौरव कपूर से बात करते हुए उन्‍होंने बताया इस ऊंचाई तक पहुंचने के लिए उन्‍होंने किस कदर संघर्ष किया है और क्रिकेट ने किस तरह उनकी जिंदगी को बदला है। हार्दिक ने बताया कि एक समय उनका हाथ इतना तंग था कि वे कार की EMI तक नहीं चुका पा रहे थे।

हार्दिक ने बताया कि, ‘जब बड़े भाई क्रुणाल 19 वर्ष के थे और मैं 17 वर्ष का था तो हमने पिता से कहा कि हमें किसी की सहानुभूति की जरूरत नहीं है। हम नहीं चाहते कि आप (पिता) लोगों को अपने बेटों को टीम ने चुनने के लिए कहें। यदि हम खेले तो अपनी पूरी क्षमता के मुताबिक प्रदर्शन करेंगे, नहीं तो नहीं खेलेंगे।

हम नहीं चाहते थे कि कोई यह कहें कि हमने इन बच्‍चों को बनाया क्‍योंकि हमने इन्‍हें खेलने का मौका दिया। उन्‍होंने कहा कि हां, इस दौरान कुछ लोग ऐसे रहे जिन्‍होंने हमारी मदद की, इसमें मेरे कोच हैं। मैं उनका आभारी हूं लेकिन आखिरकार मैदान पर तो प्रदर्शन तो आपको ही करना होता ह, हमने मैदान पर अपनी क्षमता का प्रदर्शन किया।

बातचीत के दौरान हार्दिक ने पहचान हासिल करने के पहले परिवार के संघर्ष के बारे में बताया, इस दौरान उन्‍हें और उनके भाई क्रुणाल को बेहद मेहनत करनी पड़ी। उन्‍होंने कहा कि लोग नहीं जानते कि हमने तीन साल किस कदर संघर्ष किया तब हमारे पास पैसे नहीं थे। पांच से दस रुपये तक बचाने के लिए हमारे लिए एक बड़ी समस्या थी।

मुझे अभी भी याद है कि सैयद मुश्‍ताक अली नेशनल टी20 टूर्नामेंट जीतने पर क्रुणाल और मुझे और क्रुणाल को 70-70 हजार रुपए मिले तो मैंने भाई से कहा कि हमारे लिए यह राशि बड़ा सहारा है क्‍योंकि हम तीन साल से आर्थिक रूप से संघर्ष कर रहे हैं। दो साल तक हमने कार की ईएमआई भी नहीं चुकाई थी, हम कार को छुपाकर रखते थे क्‍योंकि हम नहीं चाहते थे कि कार उठा ली जाए।

इन तीन वर्षों में हमने जो भी कमाया, वह ईएमआई और खाने का इंतजाम करने के लिए था, कुछ और नहीं। हालांकि आईपीएल में मुंबई इंडियंस के लिए चुने जाने के बाद हार्दिक की जिंदगी ने यूटर्न ले लिया, इसके बाद तो वे लगातार ऊंचाई छूते गए।

बता दें कि, पांड्या टीम इंडिया के स्टार ऑलराउंडर हैं। उन्होंने अपने बेहतरीन खेल से टीम इंडिया में एक अलग पहचान बनाए हैं और आज दुनिया में एक शानदार ऑलराउंडर में शुमार है। गौरतलब है कि, टीम इंडिया का ये ऑलराउंडर कुछ दिन के ब्रेक पर है। पंड्या आराम चाहते थे इसलिए बीसीसीआई ने उन्हें साउथ अफ्रीका दौरे से पहले भारत और श्रीलंका सीरीज़ में शामिल नहीं किया। पांड्या और पोलार्ड आईपीएल में मुंबई इंडियंस की तरफ से खेलते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here