पाकिस्तान के साथ द्विपक्षीय क्रिकेट सीरीज से सरकार का इनकार, कहा- आतंकवाद और खेल साथ-साथ नहीं चलेंगे

0

खेल मंत्री विजय गोयल ने सोमवार(29 मई) को स्पष्ट किया कि जब तक सीमा पार से आतंकवाद नहीं रूकता है तब तक सरकार भारत और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय क्रिकेट श्रृंखला की अनुमति नहीं देगी। मंत्री का यह स्पष्ट बयान उस दिन आया है, जबकि बीसीसीआई और पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के बीच दुबई में द्विपक्षीय श्रृंखलाओं को लेकर बातचीत कर रहे हैं।

फाइल फोटो: ANI

बता दें कि भारत पर आतंकवादी हमले के बाद राजनयिक तनाव के कारण इन दोनों देशों के बीच 2012 से कोई द्विपक्षीय श्रृंखला नहीं खेली गई है। गोयल ने पत्रकारों से कहा कि बीसीसीआई को पाकिस्तान को किसी भी तरह का प्रस्ताव भेजने से पहले सरकार से बात करनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि, मैं यह स्पष्ट करता हूं कि जब तक सीमा पार आतंकवाद है तब तक पाकिस्तन के साथ द्विपक्षीय क्रिकेट संभव नहीं है। हम हालांकि कई देशों के बीच होने वाले टूर्नामेंटों (आईसीसी टूर्नामेंट) के बारे में कुछ नहीं कह सकते हैं।

बता दें कि पीसीबी पहले ही बीसीसीआई को कानूनी नोटिस भेज चुका है, जिसमें उसने समझौता पत्र का सम्मान नहीं करने के लिये छह करोड़ डालर (लगभग 387 करोड़ रूपये) के मुआवजे का दावा किया है। इस करार में 2015 से 2023 के बीच पांच द्विपक्षीय श्रृंखलाओं के आयोजन का उल्लेख किया गया है।

यह पता चला है कि संयुक्त सचिव अमिताभ चौधरी की अगुवाई में बीसीसीआई अधिकारी पीसीबी के अधिकारियों के सामने यह बात रखेंगे कि सरकार की अनुमति के बिना श्रृंखला का आयोजन नहीं किया जा सकता है और उनसे मामला वापस लेने का आग्रह करेंगे।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here