असम: प्राग न्यूज़ की संपादक का सनसनीखेज आरोप- CRPF के जवानों ने कार्यालय में घुसकर कर्मचारियों के साथ की मारपीट, देखें वीडियो

0

असम में विवादास्पद नागरिकता (संशोधन) विधेयक के खिलाफ विरोध प्रदर्शन तेज होने के बीच हजारों की संख्या में लोगों ने गुरुवार को गुवाहाटी में कर्फ्यू का उल्लंघन किया और सड़कों पर उतरे। राज्य में पुलिस गोलीबारी में दो प्रदर्शनकारियों की मौत हो गई। विरोध प्रदर्शन के चलते राज्य में यातायात सेवाएं बुरी तरह प्रभावित हैं। ट्रेनों के साथ-साथ गुवाहाटी और डिब्रूगढ़ जाने वाली कई उड़ानें भी रद्द हुई हैं। इस बीच, ख़बर है कि असम के समाचार चैनल प्राग न्यूज़ के कार्यालय में घुसकर सीआरपीएफ के जवानों ने तोड़फोड़ की है और कथित तौर पर कर्मचारियों के साथ मारपीट की।

मिरर नाउ, पर प्राग न्यूज़ की संपादक अक्षिता नारायण ने बताया कि शहर में भले कर्फ्यू लगा है लेकिन वे और उनके पत्रकार चैनल की प्राइवेट प्रॉपर्टी के भीतर बैठक कर अपना काम कर रहे थे, उन्होंने कर्फ्यू का उल्लंघन नहीं किया था। इसके बावजूद उनके दफ्तर में पुलिस और सुरक्षाबल घुस आई और उसने स्टाफ के साथ मारपीट की। प्राग न्यूज़ की संपादक ने कहा कि वे यह बयान लाइव दे रही हैं और उन्हें डर है कि इसके लिए उन पर भी हमला हो सकता है। उन्होंने कहा कि, जब मीडिया के दफ्तर पर हमला हो सकता है तो उनका घर भी सुरक्षित नहीं है।

बता दें कि, केंद्र सरकार ने गुरुवार को ही टीवी चैनलों को एडवायज़री जारी की थी कि वे उत्तर पूर्व में नागरिकता संशोधन विधेयक के खिलाफ जारी आंदोलन और हिंसा को नहीं दिखाएंगे। इसके बाद से खास तौर पर उत्तरपूर्व के टीवी चैनलों पर केंद्र की खास निगरानी थी। इसी बीच, कर्फ्यू के दौरान प्राग न्यूज़ पर पुलिस और सीआरपीएफ के हमले की ख़बर सामने आई है।

बता दें कि, असम में विवादास्पद नागरिकता (संशोधन) विधेयक के खिलाफ विरोध प्रदर्शन तेज होने के बीच राज्यों के दस जिलों में इंटरनेट सेवाओं पर लगाई गई रोक की अवधि को गुरुवार की दोपहर 12 बजे से 48 घंटे के लिए और बढा दिया गया है। अधिकारियों ने बताया कि सोशल मीडिया का ‘‘दुरुपयोग’’ रोकने और कानून एवं व्यवस्था की स्थिति बनाए रखने के वास्ते इंटरनेट सेवाओं पर रोक लगाई गई थी।

अतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह और राजनीतिक विभाग) संजय कृष्णा ने समाचार एजेंसी पीटीआई (भाषा) को बताया कि लखीमपुर, धेमाजी, तिनसुकिया, डिब्रूगढ, चराइदेव, शिवसागर, जोरहाट, गोलाघाट, कामरूप (मेट्रो) और कामरूप में इंटरनेट सेवाएं बाधित रहेंगी। वाहनों पर तोड़फोड़ की घटनाओं के बाद गुरुवार की शाम पांच बजे से 48 घंटे के लिए पड़ोसी राज्य मेघालय में मोबाइल इंटरनेट और संदेश सेवाओं को भी स्थगित कर दिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here