कोरोना वायरस: JNU ने छात्रों को दिया छात्रावास खाली करने का निर्देश

0

चीन में महामारी का रूप धारण कर चुके खतरनाक कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे को देखते हुए दिल्ली स्थित जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) प्रशासन ने छात्रों को छात्रावास खाली करने का निर्देश देते हुए कहा है कि मेस सुविधाएं अगले 48 घंटों के तक ही उपलब्ध रहेंगी।

कोरोना वायरस
file photo

आम आदमी पार्टी (आप) के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार (19 मार्च) को कहा था कि उप राज्यपाल अनिल बैजल ने सभी सरकारी विभागों, स्वायत्त निकायों और सार्वजनिक उपक्रमों की गतिविधियों को अलग-अलग बांटने और सभी गैर जरूरी सेवाएं स्थगित करने को कहा है। बता दें कि, जेएनयू प्रशासन का यह निर्देश केजरीवाल के बयान के बाद आया।

समाचार एजेंसी पीटीआई की रिपोर्ट के मुताबिक, विश्वविद्यालय प्रशासन ने कहा कि संस्थान तत्काल प्रभाव से 31 मार्च तक बंद रहेगा। निर्देश में कहा गया, ‘‘विश्वविद्यालय में छात्रावास, स्कूल और प्रशासन की सेवाओं सहित सभी गतिविधियां 31 मार्च तक निलंबित हैं। इसलिए सभी छात्रों को छात्रावासों को खाली करना होगा।’’ जेएनयू प्रशासन ने कहा कि सभी मूल्यांकन / परीक्षा / कक्षा प्रस्तुति गतिविधियों को 31 मार्च तक के लिए स्थगित कर दिया गया है। सभी शोधार्थियों के शोधप्रबंध जमा करने की समय सीमा को उचित रूप से बढ़ाया जाएगा।

निर्देश में कहा गया, ‘‘छात्रों को छात्रावास छोड़कर घर जाने में सुविधा के लिए अगले 48 घंटों तक मेस सुविधाएं उपलब्ध होंगी। उसके बाद 22 मार्च से 31 मार्च तक कोई भी मेस सुविधा और अन्य सेवाएं उपलब्ध नहीं होंगी।’’ विश्वविद्यालय के विभिन्न विद्यालयों / विशेष केंद्रों में अनुसंधान प्रयोगशालाएं 31 मार्च तक यथासंभव हो बंद हो सकती हैं। निर्देश में कहा गया है,‘‘ अपने-अपने देश नहीं जा पाने वाले विदेशी छात्रों के लिए अंतर-हॉल प्रशासन आवश्यक व्यवस्था करेगा।’’

बता दें कि, देश के कई राज्‍यों से कोरोना वायरस के कंफर्म पेशेंट्स सामने आए हैं। अब तक करीब 180 मामले पता चले हैं जिनमें केरल, दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान, तेलंगाना, उत्तर प्रदेश, तमिलनाडु, जम्मू-कश्मीर, पंजाब, कर्नाटक, महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, उत्तराखंड, लद्दाख, ओडिशा और पश्चिम बंगाल के लोग शामिल हैं। ऐहतियाती कदम उठाते हुए स्‍कूल, कॉलेज, मॉल्‍स को बंद कर दिया गया है। लोगों से घरों में रहने की अपील की जा रही है ताकि संक्रमण फैलने से रोका जा सके।

गौरतलब है कि, दिल्ली-एनसीआर समेत देशभर में चीन में महामारी का रूप धारण कर चुके खतरनाक कोरोना वायरस को लेकर अलर्ट जारी है। भारत में कोरोना की दस्तक के साथ ही लोगों में घबराहट और बेचैनी बढ़ गई है। पिछले कुछ दिनों में लगातार देशभर से कोराना वायरस की चपेट में आए लोगों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here