CM शिवराज सिंह चौहान के समर्थन में उतरीं उमा भारती, कहा- हमारे देश में कई चीजें अमेरिका से बेहतर हैं

0

केन्द्रीय मंत्री उमा भारती ने मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के प्रदेश की सड़कों के बारे में दिये गए बहुचर्चित बयान का दृढ़ता से समर्थन करते हुए कहा कि हमारे देश और प्रदेश में कई चीजें अमेरिका से बेहतर हैं, इसलिये लोगों को अपनी सोच बदलने की आवश्यकता है।

File Photo: PTI

न्यज़ एजेंसी भाषा की ख़बर के मुताबिक, भारती ने आज अपने निवास पर मीडिया के साथ चर्चा में कहा, निश्चित तौर पर मध्यप्रदेश में भोपाल की वीआईपी रोड सहित और भी सड़के बेहतर हैं और वि स्तरीय हैं। हमें इस हीनभाव से बाहर निकलना चाहिये कि अमेरिका, भारत से अच्छा है। बल्कि कई मामलों में हम अमेरिका से बेहतर हैं, इसलिए लोगों को अपनी सोच बदलने की जरूरत है।

केन्द्रीय मंत्री ने बताया कि 25 साल पहले उन्होंने अमरकंटक से सन्यास ग्रहण किया और इसी कारण वह नर्मदा नदी के पवित्र उद्गम स्थल पर नमन करने जा रही हैं। उन्होंने कहा, रामेरम मंदिरों की वास्तुकला, अजंता एलोरा, खजुराहो और गंगा नदी जैसे देश में कई उदाहरण है, जिसमें भारत अमेरिका से आगे है।

उन्होंने कहा, निश्चित तौर पर मध्यप्रदेश में कई सड़के अमेरिका से अच्छी हैं और चौहान ने निर्भिकता से इस बात को अमेरिका में कहा। भारती ने कहा कि चौहान के बयान ने एक नई बहस छेड़ दी है। लोगों को अपनी सोच बदलने की जरूरत है। विशेषकर अंग्रेजी बोलने वाले लोगों को, जो हर मामले में पश्चिमी देशों को भारत से बेहतर मानते हैं।

केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि चौहान के इस बयान पर सोशल मीडिया में जो प्रतिक्रिया हुई और लोगों ने इसका मजाक भी उड़ाया। इससे उन्हें दुख पहुंचा और सच्चे देशभक्त के तौर पर वह मीडिया के बीच आकर चौहान के बयान का समर्थन करते हुए कहना चाहती हैं कि हमारा देश कई मामलों में विदेशी मुल्कों से बेहतर है।

गौरतलब है कि, हाल ही में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अमेरिका यात्रा के दौरान वाशिंगटन में कान्फेर्डेशन आफ इंडियन इंडस्ट्री और यूएस-इंडिया स्ट्रेजिक पार्टनरशीप फोरम के एक कार्यक्रम में कहा था, जब मैं वाशिंगटन हवाई अड्डे पर उतरकर शहर की ओर आ रहा था तो मैंने महसूस किया कि मध्यप्रदेश की सड़कें अमेरिका से अच्छी हैं।

मालूम हो कि वर्ष 2005-06 में भाजपा द्वारा उमा भारती को मुख्यमंत्री पद नहीं देने के निर्णय के बाद चौहान और उमा भारती के बीच संबंध कटु हो गये थे और इसके बाद उमा भारती ने भाजपा के समानांतर एक नये राजनीतिक दल का गठन किया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here