आज रात 8 बजे देश को संबोधित करेंगे पीएम मोदी, कोरोना वायरस के संदिग्ध मरीज ने सफरदरजंग अस्पताल की सातवीं मंजिल से कूदकर दी जान

0

चीन में महामारी का रूप धारण कर चुके खतरनाक कोरोना वायरस की वजह से दुनियाभर में लगभग 7,000 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी हैं। देश और दुनिया में इस वक्त इस कोरोना वायरस को लेकर चिंता का माहौल है। देश में कोरोना वायरस की दहशत के बीच दिल्‍ली से एक बड़ी खबर आई है। कोविड-19 के एक संदिग्ध मरीज ने बुधवार को दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल की सातवीं मंजिल से कूदकर कथित तौर पर आत्महत्या कर ली।

कोरोना वायरस
(PTI File Photo)

पुलिस ने बताया कि हवाईअड्डा अधिकारियों ने उसे अस्पताल में भर्ती कराया था जिसके तुरंत बाद उसने यह कदम उठाया। पुलिस ने इस व्यक्ति की आयु 35 वर्ष बताई है जबकि स्वास्थ्य मंत्रालय ने उसकी उम्र 23 वर्ष बताई। अस्पताल सूत्रों ने बताया कि हवाईअड्डे के अधिकारियों ने व्यक्ति को अस्पताल में भर्ती कराया था और उसे पृथक वार्ड में रखा गया था। जांच के लिए उसके नमूने पहले ही ले लिए गए थे। सूत्रों ने बताया कि व्यक्ति ने पृथक वार्ड को जबरन खोला और इमारत से छलांग लगा दी।

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, यह व्यक्ति पिछले एक साल से ऑस्ट्रेलिया के सिडनी शहर में रह रहा था और बुधवार को दिल्ली हवाईअड्डा पहुंचा। हवाईअड्डे पर पहुंचने पर उसने सिरदर्द की शिकायत की। मंत्रालय ने बताया कि उसे सफदरजंग अस्पताल भेजा गया जहां वह रात करीब नौ बजे पहुंचा। उसे जांच के लिए अस्पताल की सातवीं मंजिल पर ले जाया गया। जब डॉक्टर वहां पहुंचे तो वह वहां नहीं मिला। मंत्रालय ने बयान में बताया कि इस बीच, इमारत से निकल रहे एक अन्य डॉक्टर ने रात सवा नौ बजे जमीन पर एक शव पड़ा देखा।

डिप्‍टी कमिश्‍नर ऑफ पुलिस (साउथ वेस्‍ट) देवेंद्र आर्या ने कहा, “एक संदिग्‍ध COVID19 मरीज ने सफदरजंग अस्‍पताल की छत से कूदकर आत्‍महत्‍या कर ली। उसकी पहचान तनवीर सिंह के रूप में हुई है। उसे सिडनी से लौटने पर आज रात 9 बजे अस्‍पताल में भर्ती किया गया था।”

देश के कई राज्‍यों से कोरोना वायरस के कंफर्म पेशेंट्स सामने आए हैं। अब तक कुल 151 मामले पता चले हैं जिनमें केरल, दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान, तेलंगाना, उत्तर प्रदेश, तमिलनाडु, जम्मू-कश्मीर, पंजाब, कर्नाटक, महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, उत्तराखंड, लद्दाख, ओडिशा और पश्चिम बंगाल के लोग शामिल हैं। ऐहतियाती कदम उठाते हुए स्‍कूल, कॉलेज, मॉल्‍स को बंद कर दिया गया है। लोगों से घरों में रहने की अपील की जा रही है ताकि संक्रमण फैलने से रोका जा सके।

गौरतलब है कि, दिल्ली-एनसीआर समेत देशभर में चीन में महामारी का रूप धारण कर चुके खतरनाक कोरोना वायरस को लेकर अलर्ट जारी है। भारत में कोरोना की दस्तक के साथ ही लोगों में घबराहट और बेचैनी बढ़ गई है। पिछले कुछ दिनों में लगातार देशभर से कोराना वायरस की चपेट में आए लोगों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है।

कोरोना पर गुरुवार रात 8 बजे देश को संबोधित करेंगे पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी COVID-19 से जुड़े मुद्दों पर 19 मार्च को रात 8 बजे देश को संबोधित करेंगे। वह COVID-19 पर अब तक की स्थिति और इससे निपटने के उपायों पर बात करेंगे। कोरोना वायरस के चलते केंद्र के अलावा राज्‍यों की सरकारें भी लोगों से घर पर रहकर ही काम करने की अपील कर रही हैं।

एक यूजर को जवाब देते हुए पीएम मोदी ने कहा कि ‘प्रिकॉशन और प्रोडक्टिविटी ऐसे समय में पॉसिबल है।’ वहीं प्रांजल शर्मा ने जब टेक्‍नोक्रेट्स से कोरोना वायरस का कोई हल खोजने की अपील की तो पीएम मोदी ने भी साथ दिया। उन्‍होंने कहा कि रिसर्चर्स, इनोवेटर्स और टेक-लवर्स आगे आएं और एक बेहतर प्‍लैनेट के लिए आइडिया दें। (इंपुट: भाषा के साथ)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here