दुकानदार ने कोरोना वायरस संक्रमण के चलते घर पर रहने के लिए बोला, भड़के लोगों ने पीट-पीटकर मार डाला

0

भारत में तेजी से फैल रहे खतरनाक कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार की रात देश को संबोधित किया। लॉकडाउन की लापरवाही से नाराज पीएम मोदी ने देश को बचाने के लिए पूरे देश में लॉकडाउन घोषित किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को संबोधित करते हुए ऐलान किया है कि ‘आज रात 12 बजे से पूरे देश में संपूर्ण लॉकडाउन होगा, उन्होंने कहा कि ये लॉकडाउन कर्फ्यू की तरह ही होगा।’

कोरोना वायरस
फाइल फोटो

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बार-बार देश की जनता से अपील कर रहे है कि जब तक कोई बहुत जरुरी काम ना हो तब तक वो घर से ना निकले। बाहर निकल रहे लोगों पर राज्यों की पुलिस सख्ती भी दिखा रही है, लेकिन लोग इसके बाद भी लॉकडाउन के दौरान सड़कों पर नजर आ रहे हैं। इस बीच, झारखंड के पलामू जिले से देश को शर्मसार कर देने वाला मामला सामने आया है।

एनडीटीवी की रिपोर्ट के मुताबिक, यहां कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए एक 45 वर्षीय काशी साव युवक सोशल डिस्टेंसिंग बनाने के लिए अपने गांव के लोगों को कह रहा था, लेकिन गांव वालों ने उसकी न सुनते हुए उसकी पिटाई कर डाली, जिससे उसकी मौत हो गई। यह घटना बुधवार को पलामू जिले के चाक उदयपुर की है। काशी ने गांव के चार लोगों को गांव में घूमने की बजाय घर में क्वारंटाइन रहने के लिए सलाह दी।

काशी एक किराने की दुकान चलाता है और ये हमलावर उसकी दुकान पर पहुंचे थे और फिर वहां पर तोडफ़ोड़ की गई थी। यहीं पर उसे पीटा गया और बाद में गंभीर हालात में उसे अस्पताल ले जाया गया। हालांकि, गंभीर चोट आने के कारण उसकी मौत हो गई। कोरोना संक्रमण फैलने के बाद देश में शायद यह पहला मामला है जब सोशल डिस्टेंसिंग के विवाद में किसी की जान गई है।

हिन्दुस्तान की रिपोर्ट के मुताबिक, पलामू के एसपी अजय लिंडा ने बुधवार को बताया कि हैदराबाद और बेंगलुरु से रविवार को अपने गांव चक-उदयपुर लौटे चार मजदूरों -राजन साव, आशीष साव, छोटू साव व विक्की साव की प्रारंभिक स्वास्थ्य जांच पाटन प्रखंड के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में की गई थी। उन्हें 14 दिन तक अपने घर में क्वारंटाइन रहने का निर्देश दिया गया था। लेकिन वे मंगलवार की शाम गांव में घूमते हुए काशी साव की दुकान पर पहुंच गए। काशी ने उन्हें कोरोना संक्रमण का हवाला देते हुए गांव में घूमने से मना किया। इस पर चारो भड़क गए और मारपीट शुरू कर दी। मारपीट में काशी साव बुरी तरह घायल हो गए, जिन्हें पीएमसीएच में भर्ती कराया गया। जहां इलाज के दौरान बुधवार की सुबह उनकी मौत हो गई।

बता दें कि, पूरी दुनिया जहां आज कोरोना वायरस से प्रभावित है। वहीं, पीएम मोदी ने भारत में 21 दिन का लॉकडाउन करने का आदेश दिया है। इस खतरनाक कोरोनावायरस से अब तक देश में 11 जान चुकी हैं। भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के अब तक 600 से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं।

गौरतलब है कि, पीएम मोदी ने देश के लोगों से कोरोना वायरस की गंभीरता को समझने और घरों में रहने की अपील करते हुए मंगलवार को 21 दिनों के राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन की घोषणा की । कोरोना वायरस के प्रकोप को लेकर राष्ट्र के नाम संदेश में प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘ आज रात 12 बजे से पूरे देश में संपूर्ण लॉकडाउन होने जा रहा है।’’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here