जलीकट्टू के समर्थन में हिंसक हुआ प्रदर्शन, मरीना बीच पुलिस थाने में आगजनी, लाठीचार्ज में कई घायल

0

जल्लीकट्टू पर केंद्र सरकार ने अध्यादेश को मंजूरी दे दी है, लेकिन इसे लेकर हंगामा-प्रदर्शन अब भी जारी है। पुलिस ने सोमवार को पिछले 6-7 दिनों से जुटे प्रदर्शनकारियों को सुबह जबरन हटा दिया था। पुलिस ने पहले उन्हें प्रदर्शन खत्म करने के लिए समझाने की कोशिश की, लेकिन जब वे नहीं मानें, तो पुलिस को बल का इस्तेमाल करना पड़ा।

जल्लीकट्टू
Photo: NDTV

करीब दोपहर 12 बजे प्रदर्शनकारियों ने आईस हाउस पुलिस थाने में आग लगा दी। इन्होंने थाने के पास खड़ी गाड़ियों को भी आग के हवाले कर दिया। पुलिस पर पत्थरबाजी भी की जिसके जवाब में पुलिस ने भी पत्थर फेंके। इसमें 20 लोगों के घायल होने की खबर है। चेन्‍नई में कई जगहों पर आगजनी की गई।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, तमिलनाडु सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में विरोध पत्र भी दायर कर दिया है यानि अगर जल्लीकट्टू के अध्यादेश को किसी ने अदालत में चुनौती दी तो सुप्रीम कोर्ट को आदेश सुनाने से पहले राज्य सरकार का पक्ष भी सुनना होगा।

राज्य सरकार को शक है कि पशु अधिकार कार्यकर्ता इस मामले में सुप्रीम कोर्ट जा सकते हैं इसलिए यह विरोध पत्र दर्ज करवाया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here