दिल्ली: केजरीवाल के शपथ ग्रहण समारोह में शिक्षकों को बुलाने पर विवाद, BJP नेताओं ने उठाए सवाल

0

दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 में ऐतिहासिक जीत हासिल करने वाली आम आदमी पार्टी (आप) के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल रविवार (16 फरवरी) को रामलीला मैदान में दिल्ली के मुख्यमत्री पद की शपथ लेंगे। शपथ ग्रहण समारोह में पीएम नरेंद्र मोदी सहित अलग-अलग क्षेत्र की हस्तियों को आमंत्रित किया गया है। इसके अलावा शिक्षा निदेशालय ने सर्कुलर जारी कर सरकारी स्कूलों के शिक्षकों और प्रिंसिपल्स और अधिकारियों को अरविंद केजरीवाल के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने के लिए रामलीला मैदान पहुंचने का आदेश दिया है।

केजरीवाल

सर्कुलर जारी होने के बाद विपक्षी दल केजरीवाल पर हमलावर हो गए हैं। भाजपा और कांग्रेस ने केजरीवाल पर हमला बोला है। शनिवार को भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने केजरीवाल पर हमला बोला है। उन्होंने ट्वीट कर इस सर्कुलर पर सवाल उठाए हैं। कपिल मिश्रा ने अपने ट्वीट में लिखा, “सरकार के शपथ ग्रहण में टीचर्स आये ये अच्छी बात हैं। लेकिन सरकारी आर्डर निकालकर जबरदस्ती टीचर्स को लाया जाए। टीचर्स की हाजिरी रामलीला मैदान में लगाई जाए। ये एक गलत परंपरा की शुरुआत हैं। शपथ ग्रहण को ऐसे “अनावश्यक ग्रहणों” से मुक्त रखना चाहिए।”

दिल्ली भाजपा के प्रवक्ता प्रवीण शंकर कपूर ने कहा, ‘आम आदमी पार्टी जो मुफ्त योजनाओं की घोषणा से चुनाव जीती है, उनके पास विधायक बहुत हैं, लेकिन पब्लिक सपॉर्ट नहीं है। शपथ ग्रहण में लोगों के भाग न लेने के भय से, इसने 30,000 शिक्षकों को अनिवार्य रूप से उपस्थित होने को कहा है।’

वहीं, कांग्रेस ने भी आम आदमी पार्टी की खिंचाई की है। पार्टी प्रवक्ता मुकेश शर्मा ने ट्वीट किया, ‘सरकारी आदेश में सरकारी स्कूल के टीचर्स से केजरीवाल के शपथ ग्रहण में शामिल होने कहा गया है। यह साफ है कि शपथ ग्रहण में भीड़ जुटाने को शक्ति का दुरुपयोग हो रहा है।’

उधर, आलोचनाओं के बीच शिक्षा निदेशालय के एक अधिकारी ने कहा, ‘उन्हें आप सरकार के शिक्षा मॉडल पर उनके योगदान को सम्मान देने के लिए बुलाया जा रहा है।’ हालांकि, उन्होंने यह नहीं बताया कि उपस्थिति अनिवार्य है या स्वेच्छिक।

बता दें कि, केजरीवाल ने अखबारों में विज्ञापनों के जरिए दिल्ली वासियों से अपने शपथ ग्रहण समारोह में आने का अनुरोध किया है जब वह लगातार तीसरी बार दिल्ली के मुख्यमंत्री बनेंगे। केजरीवाल अपनी कैबिनेट के साथ रविवार को सुबह 10 बजे रामलीला मैदान में मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here