गुरदासपुर उपचुनाव: BJP और AAP को बड़ा झटका, 193219 वोटों से जीते कांग्रेस उम्‍मीदवार सुनील जाखड़

0

पंजाब के गुरदासपुर लोकसभा सीट पर उपचुनाव के लिए वोटों की गिनती समाप्त हो गई है। इस चुनाव कांग्रेस के उम्‍मीदवार सुनील जाखड़ 1,93,219 वोटों से शानदार जीत हासिल की है। जबकि भारतीय जनता पार्टी(बीजेपी) को दूसरे और आम आदमी पार्टी(AAP) को तीसरे नंबर से संतोष करना पड़ा है। यह परिणाम बीजेपी और AAP के लिए बड़े झटके के रूप में देखा जा रहा है। इस उपचुनाव के लिए 11 अक्टूबर को मतदान हुआ था।गुरदासपुर लोकसभा सीट दिवंगत नेता और बीजेपी सांसद विनोद खन्ना के निधन की वजह से खाली हुई थी। कांग्रेस ने प्रदेश अध्यक्ष सुनील जाखड़ को मैदान में उतारा था। मुख्य मुकाबला कांग्रेस के उम्मीदवार सुनील जाखड़, बीजेपी के उम्मीदवार स्वर्ण सलारिया और आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार मेजर जनरल (सेवानिवृत्त) सुरेश खजूरिया के बीच था।

इस शानदार जीत पर सुनील जाखड़ ने मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि गुरदासपुर के लोगों ने केंद्र में लागू की गई नीतियों को खारिज कर दिया है। वहीं, नवजोत सिंह सिद्धू ने जश्न के माहौल के बीच कहा है कि यह हमारे संभावित पार्टी प्रेजिडेंट राहुल गांधी के लिए लाल रिबन में लिपटा हुआ दिवाली का खूबसूरत तोहफा है।

AAP ने पहले ही मानी हार

हालांकि, आम आदमी पार्टी ने परिणाम आने से पहले ही अपनी हार मान ली थी। दरअसल, मतगणना से एक दिन पहले ही शनिवार(14 अक्टूबर) को एक आश्चर्यजनक फैसला लेते हुए पार्टी ने तत्काल प्रभाव से गुरदासपुर और पठानकोट जिलों के यूनिट को भंग कर दिया। यह रिपोर्ट हिंदुस्तान टाइम्स के हवाले से आई है।

रिपोर्ट के मुताबिक, पंजाब AAP सचिव गुलशन छाबड़ा ने शनिवार को इन दोनों यूनिट को बंद करने की आधिकारिक घोषणा की। इस मामले पर पार्टी के नेताओं का कहना है कि लोकसभा उपचुनाव में जिला यूनिट द्वारा बहुत ही निराशाजनक प्रदर्शन किया गया है, जिसके बाद पार्टी को इन्हें बंद करने का निर्णय लेना पड़ा।

छाबड़ा के मुताबिक राज्य के पार्टी अध्यक्ष और संगरुर से सांसद भगवंत मान और को-प्रेसिडेंट और विधायक सुनम अमन अरोड़ा द्वारा व्यापक विचार-विमर्श कर दोनों यूनिट को भंग किया गया है। छाबड़ा ने कहा कि जल्द ही दोनों जिलों की नई यूनिट को लेकर ऐलान कर दिया जाएगा, फिलहाल इस विषय पर चर्चा की जा रही है कि अब किस नेता को इन यूनिट की कमान सौंपी जाएगी।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here