कांग्रेस का मोदी सरकार पर ऑडियो बम: BJP मंत्री के हवाले से कांग्रेस का दावा, मनोहर पर्रिकर बोले- ‘मेरे बेडरूम में है राफेल की सारी फाइलें, कोई कुछ नहीं बिगाड़ सकता’

0

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नए साल के पहले दिन समाचार एजेंसी ANI को दिए अपने इंटरव्यू में राफेल डील, राम मंदिर, लोकसभा चुनाव 2019, जीएसटी, नोटबंदी और सर्जिकल स्ट्राइक समेत कई मुद्दों पर खुलकर अपने विचार रखे। पीएम मोदी के राफेल डील को लेकर दिए गए बयान के बाद कांग्रेस ने एक ऑडियो के जरिए पलटवार किया है। कांग्रेस ने एक ऑडियो जारी किया है। इस ऑडियो में कथित रूप से गोवा के स्वास्थ्य मंत्री विश्वजीत प्रताप सिंह राणे कह रहे हैं कि मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के बेडरूम में राफेल डील से संबंधित सारी फाइलें मौजूद हैं।

Manohar Parrikar

ऑडियो को लेकर कांग्रेस की तरफ से दावा किया गया है कि मंत्री राणे किसी एक शख्स से बातचीत कर रहे हैं। कांग्रेस ने दावा किया कि बीजेपी मंत्री ने उस अज्ञात शख्स को बताया कि मनोहर पर्रिकर ने कैबिनेट की बैठक में कहा कि राफेल डील के कागजात उनके बेडरूम में हैं, उनका कोई कुछ नहीं बिगाड़ सकता। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने अपने इस दावे के सबूत के तौर पर गोवा के स्वास्थ्य मंत्री विश्वजीत राणे की बातचीत की एक ऑडियो क्लिप भी सुनाई।

रणदीप सुरजेवाला ने दावा किया कि कुछ ही दिन पहले ही गोवा कैबिनेट की बैठक में मनोहर पर्रिकर ने राफेल फाइलों से जुड़ा यह बड़ा बयान दिया। जिसमें पर्रिकर ने कथित तौर पर कहा था कि कोई उनका कुछ नहीं कर सकता, क्योंकि राफेल से जुड़ी सारी फाइलें उनके पास हैं। सुरजेवाला ने सवाल दागा कि आखिर मनोहर पर्रिकर के पास राफेल से जुड़ी कौन-सी फाइलों का राज दफ्न है।

हालांकि कुछ देर बाद ही गोवा के मंत्री विश्वजीत राणे ने दावा किया कि ऑडियो टेप के साथ छेड़छाड़ की गई है। कांग्रेस के ऑडियो जारी करने के बाद गोवा के मंत्री राणे ने सफाई दी कि टेप में उनकी आवाज नहीं है। प्रेस कॉन्फ्रेंस करके राणे ने कहा, ‘कांग्रेस के आरोप पूरी तरह से झूठे हैं। टेप में मेरी आवाज नहीं है। ऑडियो की जांच की जानी चाहिए।’ राणे ने साफ कहा कि पर्रिकर ने कभी भी राफेल या किसी दस्तावेज का जिक्र नहीं किया। उन्होंने आपराधिक जांच कराने की भी बात कही है।

सुरजेवाला ने मोदी सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि जिस समय चौकीदार ने 10 अप्रैल 2015 को पैरिस में राफेल खरीद की एकतरफा घोषणा की थी, उस समय रक्षा मंत्री पर्रिकर गोवा में मछली खरीद रहे थे। उन्होंने कहा कि चौकीदार के प्रतिनिधिमंडल में रक्षा मंत्री शामिल नहीं थे बल्कि उनके साथ अनिल अंबानी गए थे।

कांग्रेस द्वारा जारी ऑडियो में सुनाई देता है, ‘मुख्यमंत्री ने बड़ा महत्वपूर्ण बयान दिया है कि राफेल पर पूरी जानकारी उनके बेडरूम में है।’ इस पर दूसरा व्यक्ति हंस पड़ता है। इतना ही नहीं क्लिप में सुनाई पड़ता है, ‘आप इस बात को किसी से भी क्रॉस चेक करा सकते हैं जो कैबिनेट मीटिंग में शामिल रहा हो। उन्होंने (सीएम) कहा है कि हर एक दस्तावेज उनके कमरे में है।’

कांग्रेस ने कहा, ‘राफेल घोटाले में अब गोवा की बीजेपी सरकार के मंत्री ने सनसनीखेज और चौंकानेवाला खुलासा कर भ्रष्टाचार की परतें उजागर कर दी हैं। कुछ दिन पहले हुई गोवा कैबिनेट की बैठक हंगामेदार रही। गंभीर रूप से अस्वस्थ होने के बावजूद पूर्व रक्षामंत्री और बीजेपी के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर वहां पहुंचे। गोवा के मंत्री की बातचीत से साफ है कि गहमागहमी के बीच मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर ने कथित रूप से कहा कि कोई उनका कुछ नहीं कर सकता और राफेल की सारी फाइलें उनके पास हैं।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here