सोनिया गांधी ने पार्टी मुख्यालय में फहराया तिरंगा, बोलीं- अन्याय, असहिष्णुता और भेदभाव के खिलाफ हमें खड़ा होना होगा

0

देश आज 73वें स्वतंत्रता दिवस के जश्न में डूबा हुआ है और इस जश्न को हर्षोल्लास एवं शांति से संपन्न करने के लिए राष्ट्रीय राजधानी सहित सभी राज्यों की राजधानियों में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने 73वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर गुरुवार को देशवासियों को बधाई दी और कहा कि अन्याय, असहिष्णुता एवं भेदभाव के खिलाफ सभी को खड़ा होना होगा।

सोनिया गांधी

सोनिया गांधी ने 24, अकबर रोड स्थित कांग्रेस मुख्यालय में ध्वजारोहण किया। इसके बाद उन्होंने एक बयान जारी कर सभी लोगों को स्वतंत्रता दिवस की बधाई दी।उन्होंने कहा, ‘‘ भारत सभी क्षेत्रों में आगे बढ़ा है। इसके मूल में ‘सत्य, अहिंसा, करुणा और देशभक्ति’ के सिद्धांत हैं।’’सोनिया ने कहा, ‘‘भारत जैसे देश में कट्टरता, अंधविश्वास, संप्रदायवाद, अतिवाद, नस्लवाद, असहिष्णुता या अन्याय के लिए कोई जगह नहीं है। हमें अन्याय, असहिष्णुता और भेदभाव के हर कृत्य के खिलाफ एक राष्ट्र के रूप में खड़ा होना होगा ताकि सही मायनों में हम आजादी को संजोए रख सकें।’’

उन्होंने कहा, ‘‘ हर व्यक्ति का यह कर्तव्य है कि वह आजादी, भाईचारे, शांति और समानता के मूल्यों को सुरक्षित रखे। ’’ देश के लिए प्राण न्यौछावर करने वाले जवानों की शहादत को याद करते हुए सोनिया ने कहा कि हमें अपने सशस्त्र बलों के सर्वोच्च बलिदान को नहीं भूलना चाहिए। उन्होंने राष्ट्र निर्माण में किसानों, मजदूरों, कलाकारों, शिक्षकों, लेखकों, विचारकों के योगदान को भी याद किया।

सोनिया ने कहा कि आधुनिक, समतामूलक, न्यायपूर्ण और भेदभावविहीन समाज का निर्माण वैज्ञानिक सोच के आधार पर करना युवाओं के हाथ में है। हाल ही में पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष नियुक्त हुईं सोनिया ने सुबह कांग्रेस मुख्यालय पहुंचकर झंडा फहराया। ध्वजारोहण के बाद सोनिया ने बच्चों को मिठाइयां भी बांटीं। इस मौके पर पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, पार्टी के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल, एके एंटनी, मोतीलाल वोरा, कपिल सिब्बल तथा कई अन्य नेता एवं कार्यकर्ता मौजूद थे। (इंपुट: भाषा के साथ)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here