राफेल मुद्दे पर मोदी सरकार के खिलाफ आक्रामक हुई कांग्रेस, राष्ट्रव्यापी आंदोलन शुरू करेगी पार्टी

0

‘जनता का रिपोर्टर’ द्वारा राफेल लड़ाकू विमानों के सौदे को लेकर किए गए खुलासे के बाद राजनीतिक गलियारों में भूचाल आ गया है। कांग्रेस राफेल डील पर केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार को बख्शने के मूड में नहीं हैं। ‘जनता का रिपोर्टर’ द्वारा उठाए गए सवाल के बाद सरकार और विपक्ष के बीच सौदे को लेकर घमासान जारी है। एक ओर जहां केंद्र सरकार इस सौदे को गोपनीयता का हवाला देकर सार्वजनिक करने से बच रही है, वहीं दूसरी ओर कांग्रेस इसमें घोटाले का आरोप लगा रही है।

राहुल गांधी
फोटो- @INCIndia

अब राफेल मुद्दे पर कांग्रेस ने हमला और भी तेज कर दिया है और मोदी सरकार के खिलाफ में जनआंदोलन करने का मूड बनाया है। पार्टी ने राफेल को मोदी सरकार का एक घोटाला करार देते हुए इसे लेकर हमले को तेज करने का फैसला किया है। कांग्रेस अब इस मुद्दे पर राष्ट्रव्यापी आंदोलन शुरू करेगी। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की अध्यक्षता में पार्टी के महासचिवों, प्रदेश प्रभारियों, पार्टी के विधायक दल के नेताओं और प्रदेशाध्यक्षों की बैठक में इस मुद्दे पर चर्चा हुई।

मीडिया रिपोर्ट के मताबिक अब खबर है कि कांग्रेस के नेता देश भर में राफेल मुद्दे पर प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे और मोदी सरकार के खिलाफ हल्ला बोलेंगे। बता दें कि राहुल गांधी संसद में भी इस मामले को उठा चुके हैं और कांग्रेस पार्टी मॉनसून सत्र के दौरान भी संसद परिसर में प्रदर्शन कर चुकी है। कांग्रेस ने राफेल सौदे को मोदी सरकार का एक घोटाला करार देते हुए इसे लेकर हमले को तेज करने का निर्णय लिया और कहा कि पार्टी इस मुद्दे पर राष्ट्रव्यापी आंदोलन शुरू करेगी।

समाचार एजेंसी IANS की रिपोर्ट के मुताबिक, यह बैठक इस साल के अंत में राजस्थान, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश और मिजोरम में होने वाले विधानसभा चुनावों की तैयारियों को लेकर बुलाई गई थी। बैठक के बारे में जानकारी देते हुए कांग्रेस प्रवक्ता, रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कि बैठक में “चुनावी राज्यों में राजनीतिक चुनौतियों पर चर्चा की गई।” उन्होंने बताया कि इस बैठक में मोदी सरकार द्वारा फ्रांस से लड़ाकू विमान खरीदने के लिए किए गए राफेल सौदे पर भी चर्चा हुई।

उन्होंने आरोप लगाया कि इस सौदे से सरकारी खजाने को 41,000 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी ‘भ्रष्टाचार का खेल, राफेल’ को उजागर करने के लिए एक आंदोलन शुरू करेगी। सुरजेवाला ने कहा, “यह फैसला किया गया कि मोदी सरकार के घोटालों को, खासतौर से राफेल घोटाले को देश के लोगों के बीच ले जाया जाएगा। अगले 30 दिनों में कांग्रेस कार्यकर्ता जिला और राज्य स्तरीय प्रदर्शन करेंगे।”

कांग्रेस प्रवक्ता ने आरोप लगाया कि राफेल सौदे का एक ठेका सरकारी कंपनी हिन्दुस्तान एयरोनॉटिक्स लि. से ‘छीन कर’ निजी कंपनी को दे दिया गया। आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नवभारत टाइम्स को दिए इंटरव्यू राफेल डील पर पिछले दिनों अपनी चुप्पी तोड़ी थी। इस दौरान उन्होंने कांग्रेस के सभी आरोपों को बेबुनियाद करार देते हुए खारिज कर दिया था।

गौरतलब है कि ‘जनता का रिपोर्टर’ ने राफेल विमान सौदे को लेकर दो भागों (पढ़िए पार्टी 1 और पार्टी 2 में क्या हुआ था खुलासा) में बड़ा खुलासा किया था। जिसके बाद राजनीतिक गलियारों में भुचाल आ गया। कांग्रेस राफेल डील को लेकर मोदी सरकार पर सीधे तौर पर भ्रष्टाचार का आरोप लगा रही है। खुद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ‘जनता का रिपोर्टर’ की खबर को शेयर कर कई बार मोदी सरकार पर हमला बोल चुके हैं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here