समर्थकों के साथ इंजीनियर को कीचड़ से नहलाने वाले कांग्रेस विधायक नितेश राणे गिरफ्तार

0

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और राज्यसभा सांसद नारायण राणे के विधायक बेटे नितेश राणे ने इंजीनियर पर कीचड़ फेंकने के मामले में कंकावली थाने में सरेंडर कर दिया है। सरेंडर करने के बाद पुलिस ने नितेश को गिरफ्तार कर लिया है और कल यानी शुक्रवार को उन्हें कोर्ट में पेश किया जाएगा। राणे समेत उनके करीब 40 से 50 समर्थकों के खिलाफ आईपीसी की धारा 353, 342, 332, 324, 323, 120(ए), 147, 143, 504, 506 के तहत एफआईआर दर्ज की गई है। सिंधुदुर्ग के एसपी दीक्षित गेदम ने बताया कि नितेश राणे और उनके दो समर्थकों को गिरफ्तार कर लिया गया है, जबकि अन्य आरोपियों की तलाश की जा रही है।

Photo: @sahiljoshii

उन्होंने बताया कि आरोपियों को शुक्रवार को कोर्ट के सामने पेश किया जाएगा। बता दें कि मध्य प्रदेश के इंदौर में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के विधायक आकाश विजयवर्गीय के सरकारी कर्मचारियों से बदसलूकी और मारपीट के बाद अब महाराष्ट्र से कांग्रेस विधायक की गुंडागर्दी की तस्वीरें सामने आई हैं। मुंबई-गोवा राजमार्ग की खराब दशा से नाराज होकर कांग्रेस विधायक नितेश राणे व उनके समर्थकों ने गुरुवार को अपना गुस्सा सड़क के सब-इंजीनियर को कीचड़ से नहलाकर निकाला और उसे पुल से बांधने का प्रयास किया।

समाचार एजेंसी आईएएनएस के मुताबिक, राणे के साथ कांकावली नगरपालिका परिषद के अध्यक्ष व राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) से जुड़े महाराष्ट्र स्वाभिमान पार्टी (एमएसपी) के कार्यकर्ता भी थे। राणे पुल के एक हिस्से पर चल रहे मरम्मत कार्य को देखने गए थे। यह पुल कंकावली के पास गढ़ नदी पर बना है। उन्होंने सब-इंजीनियर प्रकाश शेडेकर से सड़क की खराब हालात पर सवाल किए और आपत्ति जताई कि लोगों को रोजाना कीचड़ व गड्ढों का सामना करना पड़ रहा है।

उन्होंने कहा, “लोग इसे रोजाना बर्दाश्त कर रहे हैं..अब इसे आप भी महसूस कीजिए।” इसके बाद लोगों ने कुछ बाल्टी कीचड़ शेडेकर पर फेंक दिया, उन्हें धक्का दिया व घेर लिया। उन्होंने जानना चाहा कि ‘किसने उन्हें कंकावली को कीचड़ में डूबोने का अधिकार दिया है’ और कुछ कार्यकर्ताओं उन्हें कीचड़ के पास ले गए। राणे व अन्य कार्यकर्ताओं ने शेडेकर को निर्माणाधीन पुल से बांधने की भी कोशिश की।

इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इसे लेकर लोग तरह-तरह की प्रतिक्रिया दे रहे हैं, बहुत से लोग इस घटना की निंदा कर रहे हैं। राणे, एमएसपी अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री नारायण राणे के बेटे हैं। कांग्रेस विधायक के खबरों में होने की वजह कमोबेश वही है, जो इंदौर से विधायक आकाश विजयवर्गीय की थी। आकाश विजयवर्गीय इंदौर नगर निगम के अधिकारी पर नाराज हो गए थे और सरेआम बैट से पीट दिया था।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here