राहुल गांधी के साथ उपवास पर बैठने से पहले कांग्रेस नेताओं ने खाए ‘छोले-भटूरे’, तस्वीरें सामने आने के बाद बवाल

0

दलितों के भारत बंद के दौरान हुई हिंसा पर सियासत फिर गरमा गई है। दलितों पर अत्याचार के खिलाफ और साम्प्रदायिक सौहार्द्र को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी दिल्ली में राजघाट पर उपवास कर रहे हैं। राहुल गांधी और पार्टी के वरिष्ठ नेता और कार्यकर्ता यहां महात्मा गांधी की समाधि राजघाट के सामने अनशन पर बैठे हैं। दिल्ली कांग्रेस के अध्यक्ष अजय माकन तथा बड़ी संख्या में पार्टी कार्यकर्ता सुबह से ही अनशन पर बैठ गये थे।Congressपार्टी अध्यक्ष दोपहर में राजघाट पहुंचे और राष्ट्रपिता को श्रद्धांजलि अर्पित करने के बाद अनशन में शामिल हुए। लेकिन इसी बीच कांग्रेस के कुछ नेताओं के छोले-भटूरे खाते हुए तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। बीजेपी नेताओं ने आरोप लगाया है कि कांग्रेसी नेता अनशन का नाटक कर रहे हैं, जबकि वो उपवास के दौरान होटल में बैठकर छोले भटूरे खा रहे हैं।

इस तस्वीर में कांग्रेसी नेता अजय माकन, अरविंदर सिंह लवली और हारून यूसुफ छोले भटूरे खाते दिख रहे थे। इन नेताओं के साथ ही दिल्ली के एक रेस्तरां में बाकी कांग्रेसी नेता भी दिखाई दे रहे हैं। दलितों के खिलाफ हो रहे कथित अत्याचार के मुद्दे पर कांग्रेस के हमलों का लगातार सामना कर रही बीजेपी को इस तस्वीर ने पलटवार का मौका दे दिया है।

बीजेपी के दिग्गज नेता मदनलाल खुराना के बेटे हरीश खुराना ने कांग्रेस नेताओं की फोटो माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर शेयर कर तंज कसा, ‘वहां हमारे कांग्रेस के नेता लोगों को राजघाट पर अनशन के लिए बुलाया है और खुद एक रेस्तरां में बैठकर छोले-भटूरे के मजे ले रहे हैं। सही बेवकूफ बनाते हैं।’

बीजेपी नेता हरीश खुराना ने इस तस्वीर को पोस्ट किया है जिसमें कांग्रेस नेता अजय माकन, हारुन युसुफ, अरविंदर सिंह लवली छोले-भटूरे खा रहे हैं। बता दें कि हरीश खुराना दिल्ली के पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी नेता मदन लाल खुराना के बेटे हैं। हरीश खुराना ने कांग्रेस नेताओं की फोटो माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर शेयर कर तंज कसा है।

हरीश खुराना ने ट्वीट कर कहा-, “वाह रे हमारे कांग्रेस के नेता, लोगों को राजघाट पर अनशन के लिए बुलाया है और खुद एक रेस्त्रां में बैठकर छोले भटूरे के मजे ले रहे हो।”

वहीं बीजेपी दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने भी ट्वीट कर कांग्रेस पर कटाक्ष करते हुए लिखा है कि, कांग्रेस पकड़ी गई। राहुल गांधी जी का उपवास है या उपहास? 3 घंटे भी बिना “खाये” नहीं रह पाये..

इसके अलावा बीजेपी के इंफॉर्मेशन और टेक्नोलॉजी इंचार्ज अमित मालवीय ने भी राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए ट्वीट किया, ‘राहुल जी अगर लंच हो गया हो, तो उपवास पर बैठ जाओ। मैं जानता चाहता हूं कि कौन ऐसा नेता होगा जो दोपहर 12:45 बजे बाद अनशन पर बैठता हो।”

अरविंदर सिंह लवली ने स्वीकारा

हालांकि तस्वीरें सामने आने के बाद कांग्रेस नेता अरविंदर सिंह लवली ने इस फोटो के सही होने की बात स्वीकार कर ली है। उन्होंने सफाई देते हुए कहा कि यह तस्वीर अनशन से काफी पहले नाश्ते की थी। लवली ने कहा कि, ‘उपवास सांकेतिक था और इसका समय साढ़े 10 बजे के बाद था। ऐसे में हम सुबह में क्या कर रहे थे और क्या नहीं, उससे किसी और क्या मतलब है?’

उन्होंने समाचार एजेंसी ANI से बातचीत में कहा कि, “ये तस्वीर उपवास शुरू होने से पहले सुबह 8 बजे की है। ये एक सांकेतिक उपवास है जो कि 10.30 बजे सुबह से लेकर शाम के 4.30 बजे तक चलेगा। ये कोई अनिश्चितकाल के लिए भूख हड़ताल नहीं है। बीजेपी वालों की यही गलती है, वो देश को सही से चलाने के बजाय हम क्या खाते हैं उसपर ज्यादा ध्यान रखते हैं।”

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here