“लगता है BMC और मुंबई पुलिस पगला गए हैं”, IPS अधिकारी विनय तिवारी को क्वारंटाइन किए जाने पर भड़के कांग्रेस नेता संजय निरुपम

0

बॉलीवुड के मशहूर अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की संदिग्ध मौत से जुड़े मामले की जांच करने मुंबई पहुंचे पटना के एसपी विनय तिवारी को मुंबई महानगरपालिका (BMC) द्वारा ‘जबरन’ क्वारंटाइन किए जाने के बाद मुद्दे ने सियासी तूल पकड़ा लिया है। कई राजनीतिक पार्टी के नेताओं ने BMC पर हमला बोला है। इस बीच, कांग्रेस नेता संजय निरुपम ने भी इस घटना की निंदा की है। उन्होंने ट्वीट करते हुए BMC और मुंबई पुलिस पर हमला बोला है। बता दें कि, मुंबई पहुंचकर तेजतर्रार आईपीएस अधिकारी विनय तिवारी अपना पहला बड़ा कदम उठा पाते उससे पहले ही बीएमसी ने उन्हें क्वारंटीन कर दिया।

महाराष्ट्र कांग्रेस के वरिष्ठ नेता संजय निरुपम ने सोमवार (3 अगस्त) को अपने ट्वीट में कहा, “लगता है BMC और मुंबई पुलिस पगला गए हैं। सुशांत सिंह राजपूत मृत्यू कांड की जांच करने आए IPS अफसर विनय तिवारी को 15 अगस्त तक क्वारंटीन कर दिया। जांच कैसे होगी? मुख्यमंत्री तत्काल हस्तक्षेप करें। विनय तिवारी को रिलीज कराएं और जांच में मदद करें वरना मुंबई पुलिस पर शक और बढ़ेगा।”

बता दें कि, एसपी विनय तिवारी रविवार सुबह सुशांत मामले की जांच करने के लिए मुंबई पहुंचे थे। जिसके बाद उन्हें रात 11 बजे BMC द्वारा जबरन क्वारंटीन कर दिया गया है। इस पूरे मामले पर बिहार DGP गुप्तेश्वर पांडेय ने भी नाराजगी जाहिर की है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, “आईपीएस अधिकारी विनय तिवारी आज ही पटना से अपनी पुलिस टीम को लीड करने के लिए आधिकारिक ड्यूटी पर मुंबई पहुंचे लेकिन रात करीब 11 बजे बीएमसी अधिकारियों ने उन्हें जबरन क्वारंटीन कर दिया। इससे पहले उन्हें आईपीएस मेस में जगह नहीं दी गई जबकि उन्होंने कहा था कि वह गोरेगांव के एक गेस्टहाउस में ठहरे हुए हैं।”

एक अन्य ट्वीट में उन्होंने वीडियो शेयर करते हुए कहा, “ये हैं बिहार cadre के IPS अधिकारी विनय तिवारी जिनको मुंबई में आज रात में 11 बजे रात में ज़बरदस्ती क्वोरंटीन कर दिया गया। SSR (सुशांत सिंह राजपूत) केस में जाँच करने वाली टीम का नेतृत्व करने गए थे। अब ये यहाँ से कहीं निकल नहीं सकते!”

जानकारी के मुताबिक, विनय तिवारी रविवार दोपहर में मुंबई पहुंचे थे। हवाई अड्डे पर उनके चार साथियों ने उनकी अगवानी की थी। हवाई अड्डे पर ही तिवारी ने कहा था कि सुशांत सिंह राजपूत आत्महत्या मामले की जांच सही दिशा में आगे जा रही है। इसके बाद वह अपने चार साथियों के साथ गोरेगांव के एक गेस्टहाउस में गए जहां उनकी साथियों के साथ लम्बी बातचीत हुई। सोमवार को उन्हें बांद्रा जोन-9 के डीसीपी अभिषेक त्रिमुखे से मिलना था। त्रिमुखे ही सुशांत की संदिग्ध मौत के बाद उनसे जुड़ा मामला देख रहे हैं। अब तिवारी 15 अगस्त तक क्वारंटीन में रहेंगे।

गौरतलब है कि, पटना के रहने वाले 34 वर्षीय अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत ने मुंबई के बांद्रा स्थित अपने घर में 14 जून की सुबह फांसी लगाकर जान दे दी। इस खबर ने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया था। उनकी मौत की खबर सुनकर हर कोई हैरान है, किसी को अंदाजा नहीं था कि फिल्म जगत का एक ऐसा कलाकार जिसने इतने थोड़े से वक्त में इतना मुकाम हासिल किया है वो कुछ ऐसा कदम उठा सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here