“मोदी जी फकीर हैं तो क्या पूरा देश ही घर परिवार छोड़ कर फकीर बन जाए?”, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण से बोलीं कांग्रेस प्रवक्ता

0

देशभर में प्याज की लगातार बढ़ती कीमतों ने आम आदमी के बजट को बिगाड़ कर रख दिया है। देश के अधिकतर इलाकों में प्याज 90 से 100 रुपए प्रति किलो बेचे जा रहे हैं। इसकी कीमतों पर अंकुश लगाने के सरकारी प्रयास विफल होते हुए दिखाई दे रहे हैं। इस मुद्दे पर विपक्ष सरकार पर सवाल खड़े कर रहा है। बुधवार को लोकसभा में भी महंगे प्याज का मुद्दा उठा। प्याज के आसमान छूते दाम पर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बुधवार को लोकसभा में सफाई दी।

निर्मला सीतरमण

लोकसभा में प्याज खाने को लेकर कुछ सदस्यों के सवालों के जवाब में वित्त मंत्री निर्मला सीतरमण ने कहा कि, ‘मैं इतना लहुसन, प्याज नहीं खाती हूं जी। सो डोंट वरी (So Don’t worry)। मैं ऐसे परिवार से आती हूं जहां प्याज से मतलब नहीं रखते।’ दरअसल, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) की सांसद सुप्रिया सुले के सवालों का जवाब देते समय ही किसी सांसद ने निर्मला सीतरमण से पूछा कि ‘क्या आप प्याज खाती हैं’। सदस्यों के इस सवाल पर उन्होंने यह जवाब दिया।

वित्त मंत्री के इस बयान पर विपक्ष ने अब उनपर तंज तसा है। कांग्रेस प्रवक्ता राधिका खेड़ा ने निर्मला सीतारमण के बयान पर चुटकी लेते हुए कहा, “मोदी जी फकीर हैं तो क्या पूरा देश ही घर परिवार छोड़ कर फकीर बन जाए?” कांग्रेस प्रवक्ता ने अपने ट्वीट में वित्त मंत्री की ओर से दिए गए बयान का वीडियो भी शेयर किया है। निर्मला सीतारमण का यह बयान अब सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।

वहीं, आम आदमी पार्टी (आप) के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने निर्मला सीतारमण के बयान पर ट्वीट कर लिखा, “वाह रे वित्त मंत्री जी आप प्याज़ नही खातीं शायद इसीलिये आपकी सरकार ने 32 हज़ार टन प्याज़ सड़ा दी लेकिन देश की करोड़ों जनता प्याज़ रोटी से अपना पेट भरती है “जनता का निकला दिवाला, प्याज़ घोटाला प्याज़ घोटाला।”

बता दें कि बुधवार को भी प्याज की बढ़ती कीमतों को लेकर लोकसभा में हंगामा हुआ था। सांसद सुले ने एनपीए और प्याज के किसानों का मुद्दा उठाया था। प्याज की किमतों को लेकर हालात तो ऐसे हैं कि लोगों ने अब प्याज की चोरी करनी शुरू कर दी है। बीते दिनों इस तरह की कई खबरें मीडिया में सामने आई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here