‘द एक्सिडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ के बहाने कांग्रेस नेता ने पीएम मोदी पर ऐसे ली चुटकी, ट्वीट वायरल

0
Follow us on Google News

पूर्व प्रधानमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता डॉ. मनमोहन सिंह पर आधारित फिल्म ‘द ऐक्सिडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ का ट्रेलर रिलीज होने के साथ ही इस पर राजनीति भी शुरू हो गई है। कांग्रेस नेताओं ने इस फिल्म को लेकर कड़ी आपत्ति जताते हुए इसे पार्टी के खिलाफ भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) का दुष्प्रचार करार दिया है।

द ऐक्सिडेंटल प्राइम मिनिस्टर

इसी बीच, कांग्रेस नेता संजय झा ने शुक्रवार (28 दिसंबर) को फिल्म विवाद के चलते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर चुटकी ली। संजय झा ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर लिखा, ‘2019 की दूसरी छमाही में आ रही है: द मेंटल प्राइम मिनिस्टर।’

बता दें कि डॉ. मनमोहन सिंह पर आधारित फिल्म ‘द ऐक्सिडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ का ट्रेलर 27 दिसंबर को रिलीज़ हुआ है। यह फिल्म अगले साल 11 जनवरी को रिलीज होनी है। ये फिल्म, भारतीय नीति विश्लेषक संजय बारू की किताब ‘The Accidental Prime Minister’ पर आधारित है। संजय बारू मई 2004 से अगस्त 2008 तक पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के मीडिया सलाहकार पद पर कार्यरत रह चुके हैं। फिल्म में अभिनेता अनुपम खेर, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का किरदार निभाते नजर आएंगे।

फिल्म में अक्षय खन्ना पूर्व प्रधानमंत्री के सलाहकार संजय बारू के किरदार में, दिव्या सेठ शाह फिल्म में मनमोहन सिंह की पत्नी गुरशरण कौर की भूमिका में है। वहीं, सुजैन बर्नर्ट पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, आहना कुमरा प्रियंका गांधी के किरदार में नजर आएंगी और अर्जुन माथुर राहुल गांधी का रोल निभा रहे हैं। फिल्म का निर्देशन नवोदित विजय रत्नाकर गुट्टे ने किया है। जबकि हंसल मेहता फिल्म के क्रिएटिव प्रोड्यूसर हैं।

मनमोहन सिंह ने साधी चुप्पी

कांग्रेस के स्थापना दिवस कार्यक्रम के दौरान जब पत्रकारों ने इस फिल्म के बारे में पूछा तो पूर्व प्रधानमंत्री सिंह ने कोई टिप्पणी नहीं की। राजस्थान के मुख्यमंत्री और कांग्रेस के संगठन महासचिव अशोक गहलोत ने कहा कि कांग्रेस के खिलाफ यह दुष्प्रचार काम नहीं करेगा और सच की जीत होगी।

वहीं, पार्टी नेता पीएल पुनिया ने कहा कि यह अपनी नाकामी छिपाने के लिए मोदी सरकार की ओर से अपनाया गया हथकंडा है। पुनिया ने कहा, ‘यह फिल्म भाजपा का राजनीतिक खेल हैं। पांच साल बीत गये और अब प्रधानमंत्री को अपने कार्यों का ब्योरा देने का समय है। वह महत्वपूर्ण मुद्दे से लोगों का ध्यान हटाने के लिए इधर-उधर की बातें कर रहे हैं।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here