मनी लॉन्ड्रिंग मामले में कर्नाटक के दिग्गज कांग्रेस नेता डीके शिवकुमार को प्रवर्तन निदेशालय ने किया गिरफ्तार, आज होगी कोर्ट में पेशी

0
6

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने मंगलवार को कर्नाटक के पूर्व मंत्री व वरिष्ठ कांग्रेस नेता डीके शिवकुमार को मनी लॉन्ड्रिंग मामले में गिरफ्तार कर लिया। डीके शिवकुमार की गिरफ्तारी की खबर सुनकर उनके समर्थक ईडी कार्यालय के बाहर इकट्ठा हो गए और नारेबाजी करने लगे। आज उन्हें ईडी की विशेष अदालत में पेश किया जाएगा। ईडी शिवकुमार के लिए विशेष रिमांड मांग सकती है। बता दें कि, यह वही डीके शिवकुमार हैं, जो समय-समय पर कांग्रेस के लिए संकटमोचक की भूमिका निभाते रहे हैं।

डीके शिवकुमार

ईडी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, एजेंसी द्वारा चौथी बार पूछताछ के बाद शिवकुमार को मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया गया। उन्होंने कहा, शिवकुमार को धनशोधन मामले में गिरफ्तार किया गया है। शिवकुमार पूछताछ में सवालों से बच रहे थे और सहयोग नहीं कर रहे थे। ईडी की गिरफ्तारी से बचने के लिए शिवकुमार ने कर्नाटक हाईकोर्ट में अंतरिम जमानत की अर्जी दी थी जिसे कोर्ट ने खारिज कर दिया था। इसके बाद शिवकुमार शुक्रवार को ईडी के समक्ष पहली बार पेश हुए। शिवकुमार साल 2016 की नोटबंदी के बाद से आयकर विभाग और ईडी के रडार पर थे। दो अगस्त, 2017 को उनके नई दिल्ली स्थित आवास पर आयकर छापा पड़ा था, जिसमें 8.59 करोड़ रुपये नकद जब्त किए गए थे।

इसके बाद आयकर विभाग ने कांग्रेस नेता और उनके चार अन्य सहयोगियों के खिलाफ मामला दर्ज किया। आयकर विभाग के आरोपपत्र के आधार पर ईडी ने शिवकुमार के खिलाफ धनशोधन का मामला दर्ज किया। उन्होंने कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा पर उनके और राज्य के अन्य विपक्षी नेताओं के खिलाफ राजनैतिक बदले की भावना से निशाना साधने का आरोप लगाया।

कांग्रेस ने कर्नाटक के अपने वरिष्ठ नेता डीके शिवकुमार की गिरफ्तारी को लेकर मंगलवार को नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधा और आरोप लगाया कि सरकार की विफलताओं एवं ‘आर्थिक आपातकाल’ पर पर्दा डालने की कोशिश के तहत यह करवाई की गई है। पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने एक बयान में यह भी कहा कि शिवकुमार निदरेष थे और निदरेष हैं और पार्टी अदालत एवं जनता के समक्ष इसका सबूत देगी। (इंपुट: आईएएनएस और भाषा के साथ)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here