उत्तर प्रदेश: कांग्रेस नेता और उसके भतीजे की गोली मारकर हत्या, आक्रोशित मृतकों के परिजनों ने आरोपी के घर में लगाई आग

0

उत्तर प्रदेश में अपराध लगातार बढ़ते जा रहें है, जो रुकने का नाम ही नहीं है। राज्य में अपराधियों के हौसले इतने बुलंद है कि वो कहीं भी घटना को अंजाम देकर मौके से फरार हो जाते है, जिसका ताजा मामला एक बार फिर से देखने को मिला है। चित्रकूट जिले के प्रसिद्धपुर गांव में पुरानी रंजिश को लेकर कांग्रेस के पूर्व जिला उपाध्यक्ष और उसके भतीजे की कथित रूप से हत्या किए जाने का मामला सामने आया है। दोहरी हत्या से आक्रोशित मृतकों के परिजन ने आरोपी के घर में आग लगाकर उसके परिजनों को जिंदा जलाने की कोशिश की, लेकिन मौके पर पहुंची पुलिस ने उन्हें बचा लिया।

उत्तर प्रदेश
(घटना पर मौजूद पुलिस- फोटो: अमर उजाला)

समाचार एजेंसी भाषा की रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस अधीक्षक (एसपी) अंकित मित्तल ने बुधवार को बताया कि पहाड़ी थाना क्षेत्र के प्रसिद्धपुर गांव में मंगलवार रात करीब साढ़े दस बजे पुरानी रंजिश के चलते हुई कहासुनी के बाद कांग्रेस के पूर्व जिला उपाध्यक्ष अशोक पटेल (55) और उनके भतीजे शुभम उर्फ बच्चा (28) की गोली मारकर कथित हत्या कर दी गयी। हत्या का आरोप उनके पड़ोसी कमलेश कुमार पर लगाया गया है। उन्होंने बताया कि दोहरी हत्या से गुस्साए मृतकों के परिजनों ने हत्यारोपी के घर में आग लगाकर उसके परिजनों को जिंदा जलाने की कोशिश की, लेकिन मौके पर पहुंची पुलिस ने उन्हें घर से बाहर निकालकर बचा लिया।

एसपी ने बताया कि दोहरे हत्याकांड को अंजाम देने के बाद आरोपी रायफल से हवा में गोलियां चलाने के बाद फरार हो गया और उसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस की कई टीमें उसके संभावित ठिकानों पर छापेमारी कर रही है। एसपी ने बताया कि मृतक और आरोपी के बीच किसी मामले को लेकर पुरानी रंजिश थी। उन्होंने बताया कि इसी को लेकर कमलेश कुमार कांग्रेस नेता के घर पहुंच गया था और उसने कहासुनी के बाद उन्हें रायफल से कथित रूप से गोली मार दी।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि गोली की आवाज सुनकर उनका भतीजा शुभम उर्फ बच्चा वहां पहुंचा, तो आरोपी ने उसे भी गोली मार दी। मित्तल ने बताया कि गांव में तनाव को देखते हुए कई थानों का पुलिस बल तैनात किया गया है और स्थिति पर कड़ी नजर रखी जा रही है। दोनों शव कब्जे में ले लिए गए हैं और घटना की जांच की जा रही है।

उत्तर प्रदेश में अपराधियों के हौसले इतने बुलंद हो गए है कि राज्य सरकार और प्रशासन दोनों इनके आगे बेबस नजर आ रहे हैं। राज्य में अपराधी इस कदर बेखौफ हो चुके हैं कि वो घटना को कही भी अंजाम देकर मौके से फरार हो जाते है। राज्य में हर दिन राज्य के किसी न किसी हिस्से रेप, हत्या, लूट जैसी घनाओं की खबरें सामने आती रहती हैं। विपक्ष लगातार योगी सरकार को घेर रहा और यह मांग कर रहा है कि सीएम बोलने की बजाय प्रदेश में बढ़ते अपराध पर लगाम लगाने पर ध्यान दें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here