कांग्रेस का दावा- बीजेपी ने अपनी लिस्ट में स्मृति ईरानी के नाम के आगे लिखा ‘पारसी’, ट्रोल होने के बाद में वेबसाइट से हटाया

0

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने गुरुवार (21 मार्च) शाम लोकसभा चुनाव के लिए अपने 184 उम्मीदवारों की पहली सूची जारी कर दी। जिसमें प्रमुख उम्मीदवारों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वाराणसी से और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह पार्टी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी की जगह गांधीनगर से चुनाव लड़ेंगे। वहीं, गृह मंत्री राजनाथ सिंह पुरानी सीट लखनऊ से लड़ेंगे, जबकि नितिन गडकरी नागपुर से प्रत्याशी होंगे।

स्मृति ईरानी
file photo (PTI)

वहीं, केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी अमेठी से चुनाव लड़ेंगी। ईरानी के सामने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी मुकाबले में होंगे, जिससे इस सीट पर दिलचस्प मुकाबला देखने को मिल सकता है। इस बीच कांग्रेस ने दावा किया है कि बीजेपी की पहली लिस्ट में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरीनी के नाम के आगे उनके ‘पारसी’ धर्म का भी जिक्र है। कांग्रेस के दावे के अनुसार हालांकि पार्टी ने बाकी उम्‍मीदवारों के नाम के आगे जाति या धर्म का उल्‍लेख नहीं किया। मुख्य विपक्षी पार्टी ने बीजेपी पर धर्म की राजनीति करने का आरोप लगाया है।

कांग्रेस की नेशनल मीडिया कॉर्डिनेटर राधिका खेरा ने बीजेपी की लिस्ट को ट्वीट कर लिखा, ”चुनाव में बीजेपी का असली चेहरा फिर उजागर! भगवा ब्रिगेड की तथाकथित ‘शिक्षित’ मंत्री के नाम में धर्म का ज़िक्र साबित करता है कि ये लोग किस हद तक डरे हुए है और समाज को बांटने के लिए किस स्तर तक जा सकते है। चौकीदार की चोर मंडली के मन के एक और चोर का पर्दाफाश हुआ!”

कांग्रेस का दावा है कि हालांकि बाद में जब लोगों ने ट्रोल किया तो बीजेपी की ओर से जारी अपडेटेड सूची में स्‍मृति ईरानी के नाम के आगे जाति या धर्म का जिक्र नहीं है, लेकिन बीजेपी की आधिकारिक वेबसाइट पर पुरानी वाली लिस्‍ट में पारसी शब्द का जिक्र था। खरे ने एक अन्य ट्वीट में कहा, “#BJPFirstList हुई उनकी वेब्सायट पर एडिट, ‘ट्रोल भक्त-जन’ जो कल रात से मेरी टाइम लाइन पर पगला रहे है, उनके लिए खास कल रात 12:41am की ये स्क्रीन शॉट, लेकिन डियर @smritiirani जी व @BJP4India, वो गाना है ना: सच्चाई छुप नही सकती बनावट के उसूलो से
कि खुशबू आ नही सकती कागज के फूलो से”

आपको बता दें कि गत वर्ष एक यूजर का जवाब देते हुए केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा था, ‘मेरा गोत्र कौशल है जैसा कि मेरे पिता का है, उनके पिता का है और उनके पिता का है…मेरे पति और बच्‍चे पारसी हैं, इसलिए उनका गोत्र नहीं है। मैं हिंदू धर्म में विश्‍वास करती हूं और इसलिए सिंदूर लगाती हूं। अब आप अपनी जिंदगी पर ध्यान दें। धन्यवाद।’ इसके बाद केंद्रीय मंत्री ने एक अन्य ट्वीट में स्‍पष्‍टीकरण देकर कहा, ‘मेरा धर्म हिंदुस्तान है, मेरा कर्म हिंदुस्तान है, मेरी आस्था हिंदुस्तान है, मेरा विश्वास हिंदुस्तान है।’

ईरानी 2014 के लोकसभा चुनाव में राहुल गांधी से हार गई थी, लेकिन इनके बीच दिलचस्प मुकाबला देखने को मिला था। वर्ष 2014 में गांधी को 4,08,651 वोट मिले थे और ईरानी को 3,00,748 मत हासिल हुए थे। इस तरह ईरानी को 1,07,903 वोटों से हार का सामना करना पड़ा था।

सात चरणों में होने वाले लोकसभा चुनाव 11 अप्रैल से शुरू होंगे और 19 मई तक चलेंगे। देशभर में लोकसभा चुनाव 11 अप्रैल, 18 अप्रैल, 23 अप्रैल, 29 अप्रैल, छह मई, 12 मई और 19 मई को होंगे। जब 23 मई को एक साथ मतगणना होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here