बराक ओबामा की राहुल गांधी पर टिप्पणियों को लेकर कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला बोले- चलाया जा रहा है प्रायोजित एजेंडा

0

कांग्रेस ने पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा की पुस्तक में राहुल गांधी के संदर्भ में की गई टिप्पणियों को लेकर मीडिया में चल रही बहस के बीच शुक्रवार को दावा किया कि इस मामले पर प्रायोजित एजेंडा चलाया जा रहा है।

बराक ओबामा

पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने यह भी कहा कि कांग्रेस किसी एक व्यक्ति की पुस्तक में प्रकट की गई राय पर टिप्पणी नहीं करती। उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘मैं प्रायोजित एजेंडा चला रहे मीडिया के कुछ अतिउत्साही मित्रों को विनम्रता के साथ यह याद दिलाना चाहूंगा कि हम किसी पुस्तक में एक व्यक्ति द्वारा प्रकट की गई राय पर टिप्पणी नहीं करते। अतीत में भी एक नेता को लोगों एवं एजेंसियों द्वारा ‘मनोरोगी’ और ‘मास्टर डिवाइडर’ कहा गया। हमने इन टिप्पणियों का संज्ञान भी नहीं लिया।’’

वहीं कांग्रेस सांसद मणिकम टैगोर ने कहा है कि वे बराक ओबामा को अनफॉलो कर रहे हैं। उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘मैंने बराक ओबामा को अनफॉलो करने का फैसला किया है, जिन्हें मैं 2009 से फॉलो कर रहा हूं। इसका कारण है कि भारतीय राजनीतिक नेताओं और उनके खिलाफ शब्दों के बारे में उनके निर्णय को किसी भी सच्चे भारतीय द्वारा स्वीकार नहीं किया जा सकता। क्या आप भी उन्हें भी अनफॉलो करेंगे?’

गौरतलब है कि, अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने अपने संस्मकरण में कहा है कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी में एक ऐसे ‘घबराए हुए और अनगढ़’ छात्र के गुण हैं जो अपने शिक्षक को प्रभावित करने की चाहत रखता है लेकिन उसमें ‘विषय में महारत हासिल’ करने की योग्यता और जूनून की कमी है।

न्यूयॉर्क टाइम्स ने ओबामा के संस्मरण ‘ए प्रॉमिस्ड लैंड’ की समीक्षा की है। इसमें पूर्व राष्ट्रपति ने दुनियाभर के राजनीतिक नेताओं के अलावा अन्य विषयों पर भी बात की है। उन्होंने अपने संस्मरण में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का भी जिक्र किया है। समीक्षा में कहा गया है कि अमेरिका के पूर्व रक्षा मंत्री बॉब गेट्स और भारत के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह दोनों में बिलकुल भावशून्य सच्चाई/ईमानदारी है।

बता दें कि, मनमोहन सिंह के नेतृत्व वाली यूपीए सरकार ओबामा के कार्यकाल के दौरान सत्ता में थी। वहीं, राहुल गांधी, ओबामा के कार्यकाल के दौरान, कांग्रेस के उपाध्यक्ष थे, जो दिसंबर 2017 में ओबामा की पिछली भारत यात्रा के दौरान उनसे मिले थे। (इंपुट: भाषा के साथ)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here