हॉस्टल की लिफ्ट में छात्रा के सामने सफाई कर्मचारी करने लगा मास्टरबेट, चेन्नई विश्वविद्यालय ने उत्तर भारतीय लड़कियों के ड्रेस को ठहराया दोषी

0
3
चेन्नई
Photo: Anushee Arun

चेन्नई के एसआरएम विश्वविद्यालय के हॉस्टल में एक कर्मचारी द्वारा छात्रा के सामने कथित रूप से मास्टरबेट करने के बाद एक हज़ार से अधिक छात्राओं ने बीती रात विरोध प्रदर्शन किया। आरोपी छात्रावास में सफाई कर्मचारी के रूप में काम करता है जिसने लिफ्ट के अंदर लड़की के सामने हस्तमैथुन किया।

चेन्नई
Photo: Anushee Arun

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, एसआरएम इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी में ग्रेजुएशन दूसरे साल की छात्रा ने आरोप लगाया कि होस्टल की लिफ्ट में एक पुरुष कर्मचारी ने उसके सामने अश्लील हरकत की है। छात्रा ने कहा, कॉलेज के पुरुष माली ने लिफ्ट में मेरे सामने मास्टरबेट किया, मुझे चौथी मंजिल पर जाना था लेकिन वह मुझे आठवीं मंजिल तक ले गया। छात्रा का आरोप है जब उसने बाहर निकलने की कोशिश की लेकिन उसने रास्ता रोक दिया और मैंने जब तक चीखना शुरू नहीं किया, तब तक मुझे जाने नहीं दिया।

एनडीटीवी की रिपोर्ट के मुताबिक, एक छात्रा नेता ने कहा कि ‘यूनिवर्सिटी अधिकारी इसके लिए हमारे कपड़ों को दोष दे रहे हैं और उन्हें अनुचित बताया। वे हमारी शिकायतों को गंभीरता से नहीं ले रहे है। इससे पहले भी पुरुष कर्मचारियों के हमारे कमरों में झांकने की घटनाएं सामने आई हैं।’ वहीं, विश्वविद्यालय के अधिकारियों के मुताबिक, इस मुद्दे पर विवाद के बाद आदमी परिसर से भाग गया।

यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर ने कार्रवाई न करने के आरोप का खंडन किया और कहा कि प्रशासन शिकायत पर कार्रवाई करेगा। न्यूज एजेंसी पीटीआई को वाइस चांसलर संदीप संचेती ने बताया, ‘छात्र हमसे बातचीत कर रहे हैं जो भी मामला है, उस पर कार्रवाई होगी। अगर कोई मामला आता है तो उसकी जांच की जाएगी।’

कुछ छात्रों ने आरोप लगाया कि विश्वविद्यालय के निदेशक ने लड़की के यौन उत्पीड़न को उचित ठहराया। उन्होंने कहा गया कि ऐसी चीजें इन लड़कियों के साथ होती हैं क्योंकि वे उत्तर भारतीय हैं जो गंदे कपड़े पहनते हैं और धूम्रपान करते हैं और ड्रिंक करते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here