उत्तर भारत में ठंड का प्रकोप, दिल्ली का पारा तीन साल के सबसे निचले स्तर पर

0

उत्तरी राज्यों में शुक्रवार को शीतलहर का प्रकोप जारी रहने के बीच राष्ट्रीय राजधानी और जम्मू-कश्मीर में कुछ जगहों पर जनवरी के लिए न्यूनतम तापमान तीन साल में सबसे कम दर्ज किया गया, जबकि पंजाब, हरियाणा और राजस्थान में कई जगहों पर पारा जमाव बिंदु से नीचे आ गया।

सुबह के समय कोहरे की वजह से रेल सेवाएं प्रभावित हुईं, जिसमें 26 ट्रेनें विलंब से चल रही थीं. आठ ट्रेनों के समय में बदलाव किया गया और सात ट्रेनें निरस्त कर दी गईं. हालांकि हवाई यातायात निर्बाध रूप से जारी रहा।

राष्ट्रीय राजधानी में शीतलहर से न्यूनतम तापमान 3.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

क्षेत्रीय मौसम अनुमान केन्द्र के निदेशक रविन्दर भिषेन ने बताया, ‘गुरुवार का न्यूनतम तापमान 3.4 डिग्री रहा जो पिछले तीन साल में जनवरी में सबसे कम है और यह इस मौसम का भी सबसे कम तापमान है’. हिमाचल प्रदेश में आदिवासी और पहाड़ी इलाकों में ठिठुरन की स्थिति बनी रही और शीतलहर से शिमला ठिठुर गया, जहां कई स्थानों पर सातवें दिन बिजली गुल है. हालांकि जलापूर्ति आंशिक रूप से बहाल कर दी गई है।

भाषा की खबर के अनुसार, जम्मू-कश्मीर में कई स्थानों पर इस सीजन का सबसे कम रात का तापमान दर्ज किया गया. पहलगाम का न्यूनतम तापमान शून्य से नीचे 13 डिग्री सेल्सियस रहा जो जनवरी में तीन साल में सबसे कम है. वहीं, गुलमर्ग में चार साल में इस सीजन का सबसे कम रात्रि का तापमान दर्ज किया गया जो शून्य से नीचे 13.5 डिग्री सेल्सियस रहा।
हरियाणा में नारनौल का तापमान शून्य से नीचे 0.5 डिग्री, जबकि पंजाब में अमृतसर और आदमपुर का न्यूनतम तापमान क्रमश: 0.8 डिग्री और शून्य से नीचे 0.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. हरियाणा में अन्य जगहों में हिसार और करनाल भी अत्यधिक ठंडे रहे, जहां का न्यूनतम तापमान क्रमश: 2.4 डिग्री और 2.6 डिग्री सेल्सियस रहा. केन्द्र शासित चंडीगढ़ का तापमान 3.7 डिग्री सेल्सियस रहा।

पंजाब में बठिंडा और फरीदकोट भी शीतलहर की चपेट में रहे और यहां का तापमान क्रमश: 0.8 डिग्री और 0.6 डिग्री सेल्सियस रहा. इसी तरह, लुधियाना और पटियाला का तापमान 1.7 और 3.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

बिहार की राजधानी पटना में भी इस मौसम का सबसे कम तापमान दर्ज किया गया जो 5.6 डिग्री सेल्सियस रहा. वहीं, राजस्थान में तीन जगहों पर पारा जमाव बिंदु से नीचे रहा, जिसमें चुरू शून्य से नीचे 1.9 डिग्री सेल्सियस तापमान के साथ सबसे ठंडा स्थान रहा.

माउंट आबू का न्यूनतम तापमान शून्य से नीचे 2 डिग्री, जबकि श्रीगंगानगर, भीलवाड़ा, सीकर, अलवर और वनस्थली में रात का तापमान क्रमश: शून्य से नीचे 1.1 डिग्री, 0 डिग्री, 1 डिग्री, 1.2 डिग्री और 2.1 डिग्री सेल्सियस रहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here