बच्चे पर हमले का मामला: घायल छात्र से मिले CM योगी, स्कूल का प्रिंसिपल गिरफ्तार

0

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के एक स्कूल में गुरुग्राम (हरियाणा) के रयान इंटरनेशनल स्कूल जैसी घटना के बाद इलाके में सनसनी फैली हुई है। यहां स्कूल की ही एक छात्रा द्वारा टॉयलेट में पहली कक्षा के छात्र को चाकूओं से गोदकर हत्या का प्रयास किया गया है।

हमले में घायल मासूम छात्र अस्पताल में भर्ती है, जहां उसकी हालत स्थिर बताई जा रही है। इसी बीच, छात्र से मिलने के लिए राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गुरुवार (18 जनवरी) को ट्रॉमा सेंटर पहुंचे। उन्होंने बच्चे का हाल चाल पूछा और अभिभावकों से भी मुलाकात की। इस दौरान सीएम ने दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई का निर्देश दिए।

न्यूज़ 18 हिंदी की ख़बर के मुताबिक, मामले में पता चला है कि डीएम ने स्कूल प्रबंधन के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के निर्देष दे दिए हैं। इसके साथ ही लखनऊ के सभी स्कूलों में सुरक्षा इंतजामों की चेकिंग के भी निर्देश जारी किए गए हैं।

वहीं, पुलिस ने स्कूल की प्रिंसिपल को हिरासत में ले लिया है। एनडीटीवी की रिपोर्ट के मुताबिक, पूरे मामले में पुलिस ने कहा है कि प्रिंसिपल को इसलिए गिरफ्तार किया गया है क्योंकि स्कूल में नियमों की अऩदेखी कई गई है। जहां-जहां पर नियमों के मुताबिक कैमरे होने चाहिए वहां पर नहीं लगाए गए हैं। साथ ही स्कूल के स्टाफ का प्रबंधन भी ठीक नहीं पाया गया। इतना ही नहीं, बड़ी वारदात के बाद इस घटना को छिपाने की कोशिश की गई।

बता दें कि, इससे पहले ब्राइटलैंड कॉलेज पर अभिभावकों ने जमकर हंगामा काटा। वहां पर अभिभावकों की काफी नाराजगी देखने को मिली, स्कूल प्रशासन के खिलाफ लोगों ने नारेबाजी भी की। मौके पर भारी संख्या में पुलिस और जिला प्रशासन के अफसर पहुंचे हुए हैं।

न्यूज एजेंसी भाषा के मुताबिक राजधानी के अलीगंज इलाके में पहली कक्षा के छात्र पर शौचालय में चाकू जैसी किसी धारदार चीज से कथित रूप से हमला किया गया। हमले में छात्र घायल हो गया। अधिकारियों ने बताया कि छह वर्षीय रितिक को ट्रामा सेंटर में दाखिल कराया गया है और उसकी हालत खतरे से बाहर है।

घटना त्रिवेणी नगर स्थित ब्राइटलैंड स्कूल के शौचालय में मंगलवार (16 जनवरी) को सुबह घटी। रितिक के पिता राजेश ने बताया कि उन्हें स्कूल द्वारा सूचित किया गया कि बेटा घायल है। उस पर किसी लड़की ने चाकू से हमला किया है। इस घटना के बाद स्कूल की सुरक्षा पर भी सवाल खड़े हुए हैं।

गौरतलब है कि गुडगांव के रयान इंटरनेशनल स्कूल में पिछले साल सात वर्षीय छात्र मृत पाया गया था। उस पर भी किसी धारदार हथियार से हमला किया गया था। स्कूल के ही 16 वर्षीय एक छात्र पर अपराध को अंजाम देने का आरोप लगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here