गोवा: सीएम मनोहर पर्रिकर के इस्तीफे की मांग के बाद अब राज्यपाल मृदुला सिन्हा के खिलाफ प्रदर्शन करेंगे आंदोलनकारी

0

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के वरिष्ठ नेता और गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर की तबीयत खराब होने के चलते राज्य में राजनीतिक उठापटक तेज हो गई है। इसी बीच, सीएम मनोहर पर्रिकर के इस्तीफे की मांग को लेकर आंदोलन कर रहे नागरिकों ने राज्यपाल मृदुला सिन्हा की “निष्क्रियता” के खिलाफ प्रदर्शन का फैसला किया है।

मनोहर पर्रिकर
फाइल फोटो

बता दें कि सैकड़ों लोगों ने 21 नवंबर को मार्च करते हुए सीएम मनोहर पर्रिकर के आवास के पास पहुंच और उनके इस्तीफे की मांग की। विपक्षी कांग्रेस, शिवसेना और राकांपा ने इस प्रदर्शन का समर्थन किया था। आंदोलन से जुड़े एक नेता ने कहा कि वह अपने विरोध-प्रदर्शन को और तेज करेंगे।

समाचार एजेंसी भाषा की रिपोर्ट के मुताबिक आंदोलन के नेता और कार्यकर्ता एरेस रॉड्रिग्स ने कहा, ‘बीते नौ महीने से पर्रिकर बीमार हैं प्रशासन में ठहराव आ गया है। ऐसी स्थिति में राज्यपाल की संवैधानिक जिम्मेदारी है कि वह मामले में दखल दें। लेकिन वह चुपचाप सबकुछ देख रही हैं। मंत्री जो चाहते हैं, वो कर रहे हैं।’

उन्होंने कहा, ‘कल से सिर्फ पर्रिकर ही नहीं मृदुला सिन्हा की निष्क्रियता के विरोध में भी हम प्रदर्शन करेंगे इस तरह के हालात में वह सिर्फ मूकदर्शक बनी नहीं रह सकतीं। कुछ कार्रवाई करनी चाहिए ताकि गोवा में शासन लौटे।’ आरटीआई कार्यकर्ता राजन घाटे मुख्यमंत्री के इस्तीफे की मांग को लेकर पिछले आठ दिन से भूख हड़ताल पर हैं।

रॉड्रिग्स ने कहा कि 21 नवंबर को पर्रिकर को 48 घंटे का अल्टीमेटम दिया गया था जिसकी मियाद खत्म हो चुकी है। उन्होंने कहा, ‘अब हमने गोवा के समूचे 12 तालुकाओं में आंदोलन शुरू करने का फैसला किया है।’ उन्होंने कहा, ‘हम गोवावासियों को आश्वस्त कर सकते हैं कि 19 दिसंबर से पहले गोवा पर्रिकर से मुक्त हो जायेगा।’

आपको बता दें कि लंबे समय से बीमारी से जूझ रहे मनोहर पर्रिकर को इलाज के लिए दिल्ली के एम्स में भर्ती कराया गया। साथ ही बता दें कि इस साल करीब तीन महीने तक अमेरिका में उनका उपचार चला। पहले अटकलें लगाई जा रही थीं कि बीजेपी राज्य में नेतृत्व परिवर्तन कर सकती है। हालांकि पार्टी ने इन अटकलों को खारिज कर दिया है।

आईआईटी इंजीनियर से राजनेता बने 62 वर्षीय पर्रिकर दो क्षेत्रीय सहयोगियों गोवा फारवर्ड पार्टी और महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी तथा तीन निर्दलीयों के सहयोग से गोवा में सरकार चला रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here