विजय माल्या और मेहुल चोकसी को लेकर CM केजरीवाल ने केंद्र सरकार पर साधा निशाना, बोले- मोदी सरकार कर रही देश के साथ गद्दारी

0

भारतीय बैंकों के करीब 9000 करोड़ लेकर फरार हुए शराब कारोबारी विजय माल्या, पंजाब नेशनल बैंक (PNB) के घोटाले के मुख्य आरोपी नीरव मोदी और मेहुल चोकसी प्रकरण को लेकर आम आदमी पार्टी (आप) के संयोजक और दिल्‍ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज मोदी सरकार पर जोरदार हमला बोला है।

वहीं सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण ने भी पीएम मोदी पर हमला बोलते हुए पूछा, ‘क्या भारत सरकार की भागीदारी से मिली मोदी जी के मेहुल भाई को एंटीगुआ की राष्ट्रीयता?’

file photo

बता दें कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और प्रशांत भूषण की ओर से केंद्र सरकार पर यह हमला उस वक्त आया जब एंटिगुआ सरकार ने दावा किया है कि भारत और यहां की जांच एजेंसियों से क्लीनचिट दिए जाने के बाद ही उसने मेहुल चोकसी को अपने देश की नागरिकता दी है।

अरविंद केजरीवाल ने शनिवार(4 अगस्त) की सुबह ट्वीट करते हुए लिखा, ‘सीबीआई ने लंदन में माल्या के केश को कमजोर किया। चोकसी को भागने में और दूसरे देश की नागरिकता पाने में मदद की और उसके बाद मोदी सरकार प्रत्यर्पण की मांग का नाटक करती है। ये तो देश के साथ गद्दारी है न।’ बता दें कि अरविंद केजरीवाल ने यह ट्वीट एक समाचार को शेयर करते वक्त किया है।

वहीं आम आदमी पार्टी (आप) के पूर्व नेता और सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण ने ट्वीट करते हुए लिखा, “क्या चौकीदार की चौकसी बदली चोकसी से भागीदारी में? क्या भारत सरकार की भागीदारी से मिली मोदी जी के मेहुल भाई को एंटीगुआ की राष्ट्रीयता?” बता दें कि प्रशांत भूषण ने भी यह ट्वीट एक समाचार को शेयर करते वक्त किया है।

एनडीटीवी की रिपोर्ट के मुताबिक, एंटिगुआ सरकार ने एक प्रेस बयान जारी कर कहा कि 13000 करोड़ रुपये के पीएनबी घोटाले का आरोपी मेहुल चौकसी, एंटिगुआ की नागरिकता के लिए बिल्कुल सही उम्मीदवार था। उनके मुताबिक चौकसी के नाम पर भारत सरकार की एजेंसियों ने हरी झंडी दिखाई थी।

एंटिगुआ सरकार के मुताबिक चौकसी ने बीते साल मई में अर्ज़ी दी थी। विदेश मंत्रालय और सेबी ने उनको क्लीन चिट दी। चौकसी ने एंटिगुआ की निवेश नागरिकता नीति के तहत वहां की नागरिकता ली। सीबीआई उसके लिए रेड कॉर्नर नोटिस भी जारी नहीं करवा पाई, जबकि नीरव मोदी के लिए दो रेड कॉर्नर नोटिस जारी हुए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here