चुनाव आयोग धृतराष्ट्र बन गया है, धौलपुर में 18 EVM मशीनें मिली जिनसे साथ छेड़छाड़ हुई है- अरविंद केजरीवाल

0

 

दिल्ली में 23 अप्रैल को नगर निगम का चुनाव होना है और ऐसे में ईवीएम में गड़बड़ी का मामला थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एक बार फिर ईवीएम में गड़बड़ी का बड़ा आरोप लगाया है।

केजरीवाल
file photo

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, उन्होंने कहा है कि रविवार को देशभर में कई जगह उपचुनाव हुए। धौलपुर उपचुनाव  में 18 ईवीएम मशीनें ऐसी मिली है जिनसे साथ छेड़छाड़ हुई है। इतना ही नहीं साथ ही उन्होंने कहा कि, ईवीएम में बहुत शातिर तरीके से गड़बड़ी की जा रही है चुनाव आयोग धृतराष्ट्र बन गया है।

केजरीवाल ने कहा कि, कोई भी बटन दबाने पर बीजेपी को ही वोट जा रहा था। शक हो रहा है कि यह सब कहीं चुनाव आयोग के इशारे पर तो नहीं हो रहा। मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा कि, मैं भी इंजीनियर हूं, आईआईटी से पढ़ा हूं। यह मशीन की गड़बड़ी नहीं छेड़छाड़ है। यह बहुत शातिर तरीके से किया जा रहा है।

उन्होंने यह भी कहा कि तीनों निगमों के चुनाव दिल्ली की ईवीएम से क्यों नहीं कराए जा रहे हैं। इसके लिए राजस्थान से ईवीएम क्यों मंगाई जा रही हैं। आपको बता दें कि इससे पहले केजरीवाल ने रविवार (9 अप्रैल) को एक के बाद एक ट्वीट करते ईवीएम मशीनों पर सवाल उठाते हुए कहा था कि, क्या एमसीडी चुनाव निष्पक्ष होंगे।

उन्होंने कहा कि जिस तरह से ईवीएम मशीनों में गड़बड़ी की शिकायतें आ रही हैं, उसे देखते हुए केवल मशीन बदल देने से कुछ नहीं होगा। मशीनों की टेक्निकल जांच होनी चाहिए। साथ ही उन्होंने कहा था कि जब तक ऐसा नहीं होता, तब तक ऐसे में चुनाव का क्या मतलब है। उन्होंने चुनाव आयोग से पूछा है कि आखिर वह केवल मशीन क्यों बदल देता है।

इन मशीनों की टेक्निकल जाँच क्यों नहीं कराता? इससे पहले भी कई बार अरविंद केजरीवाल मांग कर चुके हैं कि दिल्ली में होने वाले एमसीडी चुनाव बैलट पेपर से हों और ईवीएम से चुनाव न करवाए जाएं।

गौरतलब है कि उत्तरप्रदेश विधानसभा के चुनाव में भाजपा की भारी जीत के बाद बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख मायावती ने ईवीएम में गड़बड़ी को लेकर सवाल खड़े किए थे और इसके बाद से ही केजरीवाल और कई अन्य विपक्षी दल भी ईवीएम के साथ छेड़छाड़ का आरोप लगा रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here