शर्मनाक: देहरादून बोर्डिंग स्कूल में 10वीं की छात्रा के साथ गैंगरेप, पीड़िता गर्भवती

0

उत्तराखंड की राजधानी देहरादून से एक शर्मनाक खबर आई है। देहरादून के एक बोर्डिंग स्कूल में 10वीं की छात्रा के साथ कथित तौर पर गैंगरेप का सनसनीखेज मामला सामने आया है। सहसपुर क्षेत्र में एक निजी आवासीय विद्यालय परिसर में चार छात्रों द्वारा एक नाबालिग छात्रा से कथित तौर पर सामूहिक बलात्कार किए जाने के मामले में पुलिस ने आरोपी छात्रों सहित नौ लोगों को गिरफ्तार किया है। आरोप है कि पहले तो स्कूल प्रबंधन घटना को दबाए बैठा रहा, लेकिन घटना की जानकारी एसएसपी तक पहुंचते ही यह कार्रवाई की गई। इस बात का खुलासा भी तब हुआ, जब छात्रा गर्भवती हो गई।

प्रतीकात्मक तस्वीर: HT

इस घटना के सिलसिले में पुलिस ने स्कूल के डायरेक्टर, प्रिंसिपल, वाइस प्रिंसिपल और चार आरोपी छात्रों समेत 9 को गिरफ्तार कर लिया है। उत्तराखंड के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (कानून-व्यवस्था) अशोक कुमार ने बताया कि एक महीने पहले हुई यह घटना सामने आने पर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए आरोपी छात्रों, एक आया और स्कूल प्रबंधन के कर्मचारियों सहित कुल नौ लोगों को गिरफ्तार किया है।

बोर्डिंग स्कूल में पढ़ने वाली छात्रा से गैंगरेप का आरोप स्कूल के ही कुछ सीनियर छात्रों पर लगा है। छात्रा के गर्भवती होने का प्रकरण जब एसएसपी के संज्ञान में आया तो उन्होंने जांच के निर्देश दिए। इसके बाद पुलिस एसडीएम विकासनगर और बाल कल्याण समिति के साथ स्कूल पहुंची और मामले की जानकारी जुटाई। स्कूल और हॉस्टल में प्राथमिक जांच के बाद घटना के सही होने के संकेत मिले। पुलिस ने स्कूल और हॉस्टल प्रबंधन से भी पूछताछ की।

NDTV के मुताबिक, अशोक कुमार ने बताया कि 10वीं और 12 वीं में पढ़ने वाले चारों आरोपी छात्र भी नाबालिग हैं। उनकी उम्र 16-18 साल के बीच बताई जा रही है। पुलिस ने इस संबंध में स्कूल की निदेशक, प्रधानाचार्य, स्कूल के प्रशासनिक अधिकारी, उनकी पत्नी और स्कूल की आया गिरफ्तार किया है। सोलह वर्षीय पीड़िता दसवीं की छात्रा है। उसके गर्भवती होने की बात पता चलने पर उसी बोर्डिंग स्कूल में पढ़ने वाली उसकी बड़ी बहन ने अपने एक रिश्तेदार को इस बारे में बताया था।

जिसके बाद उन्होंने पुलिस से इसकी शिकायत की। पुलिस को प्राप्त शिकायत के मुताबिक यह घटना पिछले साल 14 अगस्त की है। छात्रा की बड़ी बहन ने छात्रावास की आया से लेकर स्कूल प्रबंधन के अधिकारियों तक को घटना के बारे में बताया। लेकिन सभी ने उसे मुंह बंद रखने को कहा और इसकी शिकायत करने पर स्कूल से निकालने की धमकी तक दी। यह घटना दून के ग्रामीण इलाके में स्थित एक बोर्डिंग स्कूल (कक्षा एक से 12 तक) की है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here