बिहार: भागलपुर, औरंगाबाद और समस्तीपुर के बाद अब नवादा में दो समुदायों के बीच हिंसक झड़प

0

बिहार में भड़की हिंसा अभी तक थमने का नाम नहीं ले रही है, यह लगातार बढ़ता ही जा रहा है। बीते कुछ दिनों से बिहार के कई जिलों में हिंसा देखने को मिली है। बिहार में भागलपुर, औरंगाबाद और समस्तीपुर में हुई हिंसा के बाद अब नावादा जिले में भी हिंसा देखने को मिली है।

फोटो- Dailytimenews

एनडीटीवी की रिपोर्ट के मुताबिक, बिहार के नवादा में मूर्ति तोड़े जाने को लेकर दो समुदाय के बीच काफी झड़प हुई है, हिंसा में कई गाड़ियों के शीशे तोड़े गए हैं। हालात को काबू में लाने के लिए पुलिस ने हवा में कई राउंड फायरिंग भी की। बता दें कि, नवादा भारतीय जनता पार्टी(बीजेपी) के वरिष्ठ नेता व केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार में केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह का संसदीय क्षेत्र है।

रिपोर्ट के मुताबिक, बताया जा रहा है कि कल रात को नवादा बाईपास पर एक मूर्ति को तोड़ दिया गया था, जिसके बाद से ही हालात बेकाबू होते चले गए। गाड़ियों को तोड़ने के अलावा कई दुकानों में भी आग लगा दी गई, जिला प्रशासन ने इंटरनेट सेवा पर रोक लगा दी है। हालांकि, इस हिंसा को देखते हुए इलाके में सुरक्षा बलों की तैनाती कर दी गई है।

नवादा के जिला मजिस्ट्रेट ने कहा कि कुछ असमाजित तत्वों ने एक मूर्ति को तोड़ दिया, जिसकी वजह से दोनों समुदाय के लोग आपस में भिड़ गए, हालांकि अब हालात नियंत्रण में हैं।

बता दें कि, रामनवमी के दिन भड़के दंगों की वजह से पश्चिम बंगाल में चार लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं, बिहार में भी कई जिलों में भड़की हिंसा के बाद अब नया मामला नवादा में सामने आया है।

बता दें कि, अभी हाल ही में मां दुर्गा की प्रतिमा के विसर्जन करने को ले जा रहे प्रतिमा पर एक समुदाय के कुछ शरारती तत्वों द्वारा चप्पल फेंकने के बाद दूसरे समुदाय के लोगों ने रोसडा बाजार स्थित एक समुदाय के धर्मस्थल मस्जिद पर पथराव किया तथा तीन मोटरसाइकिल में आग लगा दी। जिसके बाद वहां पर हालात को काबू में लाने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा था।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here