नागरिकता संशोधन विधेयक को लोकसभा में पेश करने को समर्थन में 293, जबकि विरोध में 82 वोट पड़े

0

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने लोकसभा में नागरिकता संशोधन बिल को पेश कर दिया है। अमित शाह ने कहा कि यह विधेयक देश में किसी भी अल्पसंख्यक के खिलाफ नहीं है। इस बिल का कांग्रेस समेत ज्यादातर विपक्षी पार्टियां कड़ा विरोध कर रही हैं। बिल पेश होने के बाद लोकसभा में हंगामें के आसार हैं।

अमित शाह

लोकसभा में अमित शाह ने जैसे ही आज नागरिकता संशोधन विधेयक पेश किया, विपक्षी सांसद हंगामा करने लगे। इस पर गृह मंत्री ने खड़े होकर साफ कहा कि वह अभी बिल पेश कर रहे हैं और विपक्षी सांसदों के एक-एक सवालों का जवाब देंगे, तब आप वॉकआउट मत करिएगा। शाह ने यह भी कहा कि यह बिल 0.001 प्रतिशत भी अल्पसंख्यकों के खिलाफ नहीं है।

अमित शाह ने कहा कि, नागरिकता संशोधन विधेयक किसी भी तरह से देश के अल्पसंख्यकों के खिलाफ नहीं है।लोकसभा में कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि इस बिल के जरिए देश के अल्पसंख्यकों को टारगेट किया गया है।

जानें हर अपडेट

  • नागरिकता संशोधन विधेयक को लोकसभा में पेश करने को समर्थन में 293, जबकि विरोध में 82 वोट पड़े।
  • नागरिकता संशोधन बिल का विरोध करते हुए ओवौसी ने गृह मंत्री अमित शाह की तुलना हिटलर से कर दी। इसके बाद लोकसभा में बीजेपी के सांसदों ने हंगामा शुरू कर दिया।
  • टीएमसी सांसद सौगत राय ने लोकसभा में कहा कि आज संविधान संकट में है। इसके बाद बीजेपी के सदस्यों ने उनके बयान का विरोध किया। बीजेपी के हंगामें के दौरान टीएमसी सांसद बोले- मारेंगे क्या, मारेंगे क्या मुझे?
  • नागरिकता संशोधन विधेयक पेश होने के बाद लोकसभा में टीएम सांसद सोगत राय ने कहा कि गृह मंत्री नए हैं, उन्हें शायद नियमों की जानकारी नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here