‘हमारे अपने क्षेत्र’ में निर्माण सामान्य गतिविधि: अरुणाचल प्रदेश में गांव बसाने की खबरों पर चीन का बयान

0

चीनी विदेश मंत्रालय ने गुरुवार को कहा कि ‘‘अपने खुद के क्षेत्र में’’ चीन की विकास और निर्माण गतिविधियां सामान्य और दोषारोपण से परे हैं। मंत्रालय ने यह बात अरुणाचल प्रदेश में चीन द्वारा एक नया गांव का निर्माण किए जाने की खबरों पर प्रतिक्रिया में कही।

अरुणाचल प्रदेश

समाचार एजेंसी पीटीआई (भाषा) की रिपोर्ट के मुताबिक, चीन के विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने एक मीडिया ब्रीफिंग में एक सवाल के जवाब में कहा, ‘‘जंगनान क्षेत्र (दक्षिण तिब्बत) पर चीन की स्थिति स्पष्ट और स्थिर है। हमने कभी भी तथाकथित अरुणाचल प्रदेश को मान्यता नहीं दी।’’ चुनयिंग ने कहा कि ‘‘हमारे खुद के क्षेत्र में’’ चीन की विकास और निर्माण गतिविधियां सामान्य हैं। उन्होंने कहा, ‘‘यह दोषारोपण से परे है क्योंकि यह हमारा क्षेत्र है।’’

चीन अरुणाचल प्रदेश को दक्षिण तिब्बत का हिस्सा बताता है, जबकि भारत हमेशा कहता रहा है कि अरुणाचल प्रदेश उसका अभिन्न और अखंड हिस्सा है। चीनी विदेश मंत्रालय ने अपनी वेबसाइट पर चुनयिंग के हवाले से अद्यतन बयान में कहा कि ‘हमारे खुद के क्षेत्र में चीन का सामान्य निर्माण पूरी तरह संप्रभुता का मामला है।’

बता दें कि, NDTV ने अपनी एक रिपोर्ट में अरुणाचल प्रदेश के क्षेत्र की तस्वीरें दिखाई थीं जिसमें कहा गया था कि चीन ने एक नए गांव का निर्माण किया है और इसमें लगभग 101 घर हैं। रिपोर्ट के अनुसार 26 अगस्त 2019 की पहली तस्वीर में कोई इंसानी रिहायश नहीं दिखी, लेकिन नवंबर 2020 में आई दूसरी तस्वीर में आवासीय निर्माण दिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here