ट्रंप की ओर से चेतावनी के बाद पाकिस्तान के बचाव में उतरा चीन

0

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अफगानिस्तान से बलों की जल्दबाजी में वापसी से मंगलवार(22 अगस्त) को इंकार करते हुए आतंकवादियों को पनाहगाह मुहैया कराने के लिए पाकिस्तान को कड़ी चेतावनी दी और युद्ध ग्रस्त देश में शांति लाने में भारत से और योगदान देने की अपील की। किसी अमेरिकी राष्ट्रपति ने पाकिस्तान को पहली बार इतने कड़े शब्दों में चेतावनी दी है।

Photo Credit: AP

ट्रंप के चेतावनी के बाद अब चीन, पाकिस्तान के बचाव में उतर गया है। चीन ने पाक का बचाव करते हुए कहा है कि इस्लामाबाद हमेशा से आतंकवाद के खिलाफ पहली कतार में खड़ा रहा है। बता दें कि ट्रंप ने अपने कार्यकाल में पहली बार अफनागिस्तान और दक्षिण एशिया नीति का ऐलान करते हुए पाकिस्तान को आतंकवाद को पनाह देने वाला देश करार दिया है।

ट्रंप के आरोपों का जवाब देते हुए चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने कहा कि उम्मीद है कि अमेरिका की ओर से क्षेत्र में सुरक्षा और स्थिरता को बढ़ावा देने वाली नीति अपनाई जाएगी। चीनी विदेश मंत्रालय ने कहा कि पाकिस्तान पर राष्ट्रपति ट्रंप के बयान को लेकर मैं इतना ही कहूंगा कि पाकिस्तान हमेशा से आतंकवाद के खिलाफ जंग में पहली कतार में खड़ा रहा है। यही नहीं आतंकवाद से लड़ाई में पाकिस्तान ने बहुत त्याग किया है। क्षेत्र में शांति और स्थिरता के लिए पाकिस्तान ने तमाम प्रयास किए हैं।

ट्रंप ने पाक को दी चेतावनी

बता दें कि ट्रंप ने पाकिस्तान को चेतावनी देते हुए कहा कि पाकिस्तान के पास अफगानिस्तान में हमारे प्रयास में साझीदार बनकर हासिल करने के लिए बहुत कुछ है, लेकिन आतंकवादियों को शरण देना जारी रखने पर उसके पास खोने के लिए भी बहुत कुछ है।’’

ट्रंप ने अपने संबोधन में आतंकवादी समूहों को समर्थन देने को लेकर पाकिस्तान की कड़ी आलोचना की और कहा कि इस्लामाबाद अमेरिका से अरबों डॉलर की मदद प्राप्त करता है, इसके बावजूद वह आतंकवादियों को पनाह मुहैया करा रहा है। ट्रंप ने कहा कि अतीत में, पाकिस्तान हमारा महत्वपूर्ण साझीदार रहा है। हमारी सेनाओं ने साझे दुश्मनों के खिलाफ मिलकर काम किया है।

पाकिस्तानी लोगों ने आतंकवाद एवं अतिवाद के कारण काफी कुछ झेला है। हम इन योगदानों एवं बलिदानों की कद्र करते हैं। उन्होंने कहा कि लेकिन पाकिस्तान ने कुछ ऐसे संगठनों को शरण भी मुहैया कराई है जो हमारे लोगों को मारने की रोजाना कोशिश करते हैं। ट्रंप ने कहा कि अमेरिका पाकिस्तान को अरबों डॉलर दे रहा है, लेकिन वह उन्हीं आतंकवादियों को पनाह दे रहा है जिनके खिलाफ अमेरिका लड़ रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here