DU विवाद: चिदंबरम का वित्त मंत्री पर हमला, कहा- क्या डूसू में जेटली ‘विनाश के गठजोड़’ की अगुवाई कर रहे थे?

0

नई दिल्ली। दिल्ली विश्वविद्यालय(डीयू) से जुड़े जारी विवाद के बीच कांग्रेस नेता व पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने सोमवार(27 फरवरी) को केंद्रीय वित्त मंत्री अरूण जेटली से पूछा कि वर्ष 1975 में विश्वविद्यालय के छात्र संघ की अगुवाई करते समय क्या वह ‘विनाश के गठजोड़’ का नेतृत्व कर रहे थे।

बता दें कि जेटली ने शनिवार(25 फरवरी) को ‘ लंदन स्कूल ऑफ इकनॉमिक्स’ में अपने व्याख्यान के दौरान कहा था कि देश के कुछ शैक्षणिक संस्थानों में ‘विनाश का गठजोड़’ चल रहा है। उन्होंने साथ ही कहा कि अति-वामपंथी और अलगाववादी एक ही भाषा में बात कर रहे हैं।

जेटली ने कहा कि मेरा व्यक्तिगत रूप से मानना है कि समाज में अभिव्यक्ति की आजादी पर बहस होनी चाहिए, लेकिन हिंसा कोई तरीका नहीं है। उन्होंने साथ ही कहा था कि आपसे अलग विचार रखने वाले लोगों को भी बोलने का मौका देना चाहिए।

मेरा व्यक्तिगत रूप से मानना है कि भारत में, या किसी भी समाज में, अभिव्यक्ति की आजादी पर बहस होनी चाहिए। अगर आप इस बात में यकीन रखते हैं कि आप अभिव्यक्ति की आजादी के जरिए देश की संप्रभुता पर हमला कर सकते हैं, जब जवाब में दूसरे के अभिव्यक्ति की आजादी की आवाज सुनने के लिए तैयार रहिए।’

इसी बयान पर पूर्व वित्त मंत्री चिदंबरम ने जेटली के इस बयान का पर सवाल करते हुए पूछा, ‘जब जेटली खुद 1975 में डूसू के अध्यक्ष थे तो क्या वह खुद विनाश के गठजोड़ का नेतृत्व कर रहे थे? गौरतलब है कि जेटली 1974-75 में दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संघ (डूसू) के अध्यक्ष थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here