ज़ी के चेयरमैन सुभाष चंद्रा का दावा, उन्होंने पाकिस्तानी कलाकारों से ‘उड़ी हमले’ की निंदा के लिए कहा था, लेकिन पाक कलाकारों ने किया इनकार

0
>

राज्यसभा सांसद और एस्सेल ग्रुप के अध्यक्ष सुभाष चंद्रा ने मंगलवार को दिल्ली में एक प्रेस कॉन्फ्रेस में कहा कि उन्होंने पाकिस्तानी कलाकारों से उड़ी हमले की निंदा करने के लिए कहा था लेकिन उन्होंने ऐसा करने से इनकार कर दिया।

सुभाष चंद्रा का कहना है कि पाकिस्तानी टीवी धारावाहिकों को अपने चैनल ‘जिंदगी’ से निकालना, निरंतर हो रही आतंकवादी घटनाओं के खिलाफ विरोध जताने का एक तरीका है।

चंद्रा ने बातचीत में कहा, ‘तमाम पाकिस्तानी शो को जिंदगी चैनल से हटाना दुर्भाग्यपूर्ण है, लेकिन प्यार एकतरफा नहीं हो सकता, पाकिस्तानी कलाकारों को जिंदगी चैनल के जरिए भारतीय ड्रॉइंग रूम में आने का मौका मिलता है, लेकिन उन्होंने (पाकिस्तान के लोग) बार-बार गलत हरकतें की हैं। पहले पठानकोट और फिर उड़ी।’

Also Read:  सरकार के खिलाफ ही पाकिस्‍तानी अखबार ने पूछा सवाल- मसूद अजहर, हाफिज सईद के खिलाफ क्‍यों एक्‍शन नहीं लेता पाक?

दरअसल एस्सेल ग्रुप के चैनल जिंदगी पर कई सारे पाकिस्तानी सीरियल्स चल रहे हैं, जिनमें उन्होंने पाकिस्तानी कलाकारों को अनुबंधित कर रखा था। चंद्रा ने बताया कि हमने उनको लगभग 60 करोड़ रुपये भी दे रखे हैं, लेकिन भावनाओँ के आगे इनका कोई महत्व नहीं है।

Also Read:  फिल्म 'ऐ दिल है मुश्किल' के खिलाफ हिंदुवादी संगठनों का प्रदर्शन

चंद्रा ने आगे कहा, “अगर आप लड़ना चाहते हैं तो सामने आकर लड़ें, सोते हुए जवानों पर हमला क्यों कर रहे हैं? इसलिए हमने पाकिस्तानी सीरियल नहीं दिखाने का फैसला लिया है।”

गौरतलब है कि राज्‍यसभा सांसद सुभाष चंद्रा ने कुछ दिन पहले ट्वीट कर बताया था कि वे पाकिस्‍तानी शो को हटाने पर विचार कर रहे हैं। साथ ही उन्‍होंने पाक कलाकारों को भारत छोड़ने को भी कहा था।

Also Read:  इशरत जहां मुठभेड़ मामला: सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद गुजरात के दो शीर्ष पुलिस अधिकारियों ने दिया इस्तीफा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here