पहलवान नरसिंह यादव डोपिंग मामले में सीबीआई ने मामला दर्ज किया

0

सीबीआई ने अंतरराष्ट्रीय पहलवान नरसिंह यादव से जुड़े डोपिंग मामले में केस दर्ज कर लिया है। नरसिंह के मूत्र के नमूने में प्रतिबंधित पदार्थ पाया गया था, जिसके कारण वह रियो ओलिंपिक में भाग नहीं ले पाए थे।

सीबीआई के सूत्रों ने आज कहा कि एजेंसी ने अब इस मामले में जांच का जिम्मा ले लिया है, जिसमें हरियाणा पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज कर रखी है. नियमों के अनुसार, राज्य पुलिस द्वारा प्राथमिकी को सीबीआई फिर से दर्ज करती है, लेकिन वह जांच के दौरान पाए गए किसी भी नतीजे पर पहुंचने के लिए स्वतंत्र होती है।

Also Read:  मुंबई: 13 साल की रेप पीड़ित लड़की से जन्मे बच्चे की मौत, सुप्रीम कोर्ट ने दी थी गर्भपात की इजाजत
Narsingh Yadav
Photo: Jagran.com

मामला धारा 120-बी (आपराधिक साजिश), 328 (जहर) और आईपीसी की धारा 506 के तहत दर्ज किया गया है।

ये भी पढ़े-रियो ओलंपिक में पहलवान नरसिंह यादव का सपना चकनाचूर, 4 साल का लगा बैन

सूत्रों ने कहा कि नरसिंह ने जो शिकायत दर्ज कराई है, उसमें आरोप लगाया गया है कि दरियापुर कलां के एक पहलवान जितेश ने रियो ओलिंपिक में उनकी भागीदारी रोकने के लिए उनके खाने और पेय पदार्थों में नारकोटिक्स और प्रतिबंधित पदार्थ मिलाए।

Also Read:  केजरीवाल सरकार के नए मंत्रियों की नियुक्ति को केंद्र से मिली मंजूरी, CM बोले- फाइल क्यों रोकी

ये भी पढ़े-पहलवान नरसिंह यादव ने जानबूझकर ली थी प्रतिबंधित दवा: खेल पंचाट

भाषा की खबर के अनुसार,सीबीआई प्रवक्ता देवप्रीत सिंह ने कहा, ‘आरोप लगाया गया है इस अंतरराष्ट्रीय पहलवान के खाने-पानी में प्रतिबंधित पदार्थ मिलाया गया था, ताकि वह रियो ओलिंपिक में भाग नहीं ले सके, जिसके लिए उसने क्वालीफाई किया था’. यादव पर खेल पंचाट ने चार साल का प्रतिबंध लगाया था, जिसके कारण वह ओलिंपिक में भाग नहीं ले पाए थे।

Also Read:  सेना ने कहा- पाकिस्तान से नहीं लिया कोई बदला, टीवी चैनल वाले बिना पूछे ही हो जाते है आग-बबूला

इसके बाद भारतीय कुश्ती महासंघ ने इस मामले की सीबीआई जांच की मांग की थी. इस पहलवान को ओलिंपिक खेल शुरू होने से लगभग 20 दिन पहले प्रतिबंधित दवा के सेवन का दोषी पाया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here