कथित भ्रष्टाचार के मामले में कर्नाटक कांग्रेस अध्यक्ष डीके शिवकुमार के 14 ठिकानों पर CBI की छापेमारी

0

केंद्रीय जांच एजेंसी (CBI) ने कर्नाटक कांग्रेस के अध्यक्ष और वरिष्ठ नेता डीके शिवकुमार से संबंधित भ्रष्टाचार के एक मामले में अनेक परिसरों की तलाशी ले रहे हैं। सीबीआई आय से अधिक संपत्ति जुटाने से जुड़े मामले में कर्नाटक, दिल्ली एवं महाराष्ट्र में 14 स्थानों पर तलाशी ले रही है।

कर्नाटक

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, अधिकारियों ने कहा कि तलाशी अभियान दिन भर चल सकता है। उन्होंने बताया कि सीबीआई ने एक अन्य एजेंसी के सूत्र से मिली जानकारी के आधार पर कांग्रेस नेता के खिलाफ नया मामला दर्ज किया है। अधिकारियों के मुताबिक, यह सूचना शिवकुमार के कर्नाटक सरकार में मंत्री रहने के दौरान जुटाई गई संपत्तियों के बारे में है।

सीबीआई ने सोमवार को सुबह लगभग 6 बजे छापेमारी शुरू की और जैसे ही यह खबर फैली, बड़ी संख्या में समर्थकों का जमावड़ा उनके घर के बाहर लगना शुरू हो गया। सूत्रों का कहना है कि इस छापेमारी के दौरान सीबीआई की टीम को 50 लाख रुपये का कैश मिला है। इस कैश को लेकर भी पूछताछ की जा रही है।

सीबीआई की इस छापेमारी को लेकर कांग्रेस नेताओं ने केंद्र सरकार पर तीखे हमले किए। पार्टी महासचिव रणदीप सिंह सुरजेवाला ने इसे ‘रेड राज’ कहा और कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री सिद्यारमैया ने इसे केंद्र की भाजपा सरकार द्वारा कांग्रेस पार्टी की उपचुनाव की तैयारियों को पटरी से उतारने का प्रयास करार दिया।

सुरजेवाला ने ट्वीट कर आरोप लगाया, “मोदी-येदियुरप्पा की जोड़ी के डराने-धमकाने के खेल को उनकी कठपुतली बनी सीबीआई द्वारा पर डी.के. शिवकुमार पर छापा मारकर अंजाम दिया जा रहा है.. लेकिन इससे वह डरने वाले नहीं है.. सीबीआई को येदियुरप्पा सरकार के भ्रष्टाचार की परतों को खोलना चाहिए।”

उन्होंने आगे कहा, “मोदी और येदियुरप्पा सरकार और भाजपा के फ्रंटल संगठन यानी सीबीआई-ईडी-इनकम टैक्स को बताना चाहते हैं कि कांग्रेस कार्यकर्ता और नेता ऐसे कुटिल प्रयासों के आगे न तो झुकेंगे और न ही झुकने देंगे।” सुरजेवाला ने कहा, “इससे लोगों के लिए लड़ने और भाजपा के कुशासन को उजागर करने का हमारा संकल्प केवल मजबूत हुआ है।”

सीबीआई की इस कार्रवाई पर राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता सिद्धारमैया ने भारतीय जनता पार्टी पर बदले की राजनीति करने का आरोप लगाया है। उन्होंने सोमवार को एक ट्वीट कर लिखा, “भाजपा हमेशा बदले की राजनीति और लोगों को गुमराह करने की कोशिश करती रही है। डीके शिवकुमार के घर पर सीबीआई की छापेमारी हमारी उपचुनावों की तैयारी में भंग डालने के लिए की जा रही है। मैं इसकी कड़ी निंदा करता हूं।”

पिछले साल सितंबर में, कर्नाटक कांग्रेस के प्रमुख को प्रवर्तन निदेशालय ने उनके खिलाफ आयकर विभाग द्वारा दायर चार्जशीट के आधार पर गिरफ्तार किया था। उन पर दूसरों की मदद से हवाला चैनलों के जरिए बेहिसाब धनराशि के लेनदेन का आरोप है। प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट (पीएमएलए) के तहत, शिवकुमार पर कर चोरी और ‘हवाला’ से करोड़ों रुपये के लेनदेन का आरोप लगाया गया था। (इंपुट: भाषा और आईएएनएस के साथ)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here