लालू यादव को जेल पहुंचाने वाले CBI जज को खुद नहीं मिल रहा इंसाफ, काट रहें है अधिकारियों के चक्कर

0

बहुचर्चित चारा घोटाले के एक और मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को सजा सुनाने वाले रांची सीबीआई की विशेष अदालत के जज शिवपाल सिंह को खुद सालों पुराने मामले में न्याय नहीं मिल रहा है और उन्हें प्रशासनिक अधिकारियों के चक्कर काटने पड़ रहे हैं।

फाइल फोटो: लालू यादव को साढ़े तीन साल की सजा सुनाने वाले सीबीआई कोर्ट के जज शिवपाल सिंह

नवभारत टाइम्स की ख़बर के मुताबिक, लालू यादव को सजा सुनाने वाले जज शिवपाल सिंह यूपी के जालौन जिले के रहने वाले है। शिवपाल सिंह इन दिनों अधिकारियों के साथ बैठक कर रहे हैं, ताकि उनके शेखपुर खुर्द गांव में उनकी पैतृक जमीन वापस मिल सके। इस मुद्दे के समाधान के लिए जज सिंह काफी प्रयास कर रहे हैं, मगर उनकी समस्या प्रशासनिक अफसरों की उदासीनता के कारण दूर नहीं हुई है।

रिपोर्ट के मुताबिक, जालौन के तहसीलदार जितेंद्र पाल ने बताया कि जमीन को मुक्त कराने के लिए सिंह उनसे मिलने आए थे। शिकायत को सुनने के बाद जमीन विवाद की जांच के लिए एक दल भेजा गया था। उन्होंने बताया कि उसके बाद से फिर कभी उनकी जज सिंह से मुलाकात नहीं हुई।

वहीं, जनसत्ता.कॉम की ख़बर के मुताबिक, यह मामला साल 2006 का है। शिवपाल के भाई सुरेंद्र पाल सिंह का कहना है कि पूर्व प्रधान ने अपने कार्यकाल के दौरान बिना किसी अधिकार के उनकी जमीन पर चकरोड निकाल दी थी। तभी से ही शिवपाल और उनका परिवार अधिकारियों के चक्कर काट रहा है।

हालांकि मीडिया, में यह बात सामने आने के बाद जालौन उप जिलाधिकारी भैरपाल सिंह ने कहा है कि उन्हें मामले की जानकारी नहीं थी और अब वह इसे लेकर उचित कार्रवाई करवाएंगे।

बता दें, जज शिवपाल ने चारा घोटाले के एक मामले में लालू यादव को साढ़े तीन वर्ष कैद एवं पांच लाख रुपये जुर्माने की सजा सुनाई है। बता दें कि कोर्ट में सुनवाई के दौरान लालू और जज के बीच हुई बात काफी चर्चा में रही थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here