सारदा चिटफंड घोटाला: कोलकाता के पूर्व पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार CBI के समक्ष हुए पेश, 4 घंटे से ज्यादा समय तक चली पूछताछ

0

केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने शुक्रवार को पूर्व कोलकाता पुलिस आयुक्त राजीव कुमार से करोड़ों रुपये के शारदा चिटफंड घोटाले में चार घंटे से ज्यादा समय तक पूछताछ की। राज्य पुलिस विभाग के विशेष जांच दल (SIT) का नेतृत्व कर चुके राजीव कुमार सीजीओ कॉम्प्लेक्स में स्थित केंद्रीय एजेंसी के कोलकाता कार्यालय में सुबह लगभग 10.30 बजे पहुंचे। वह एजेंसी कार्यालय से अपरान्ह करीब 3 बजे गए।

राजीव कुमार
(Arijit Sen/HT Photo)

इससे पहले सीबीआई ने वरिष्ठ अधिकारी से मामले में फरवरी में शिलांग में पूछताछ की थी। यह पूछताछ सर्वोच्च न्यायालय के निर्देशों के तहत हुई थी। सर्वोच्च न्यायालय ने हाल में अधिकारी से जांच एजेंसी के साथ सहयोग करने को कहा. सीबीआई के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। हाल फिलहाल में उन्हें केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) द्वारा कई बार तलब किया गया था, लेकिन वह अवकाश पर होने की बात कह कर पेश होने से मुकर जाते थे।

एजेंसी सूत्रों के अनुसार, पूछताछ की पूरी प्रक्रिया की वीडियो रिकॉर्डिग की गई है और कुमार के बयानों का मिलान बंगाल के एक अन्य आईपीएस अधिकारी अर्नब घोष के साथ किया जाएगा। अर्नब से सीबीआई ने इसी मामले में पूछताछ की है. कुमार वर्तमान में पश्चिम बंगाल के सीआईडी के अतिरिक्त महानिदेशक के तौर पर तैनात हैं। कुमार को सीबीआई ने हाल के सप्ताहों में कई बार सम्मन दिया, लेकिन वह उपस्थित नहीं हुए। उन्होंने कहा कि वह छुट्टी पर हैं।

जांच एजेंसी ने कुमार के लिए बीते महीने एक लुकआउट नोटिस जारी किया है। इसके बाद कुमार ने कलकत्ता उच्च न्यायालय से संपर्क किया और अपने खिलाफ सीबीआई नोटिस को रद्द करने की मांग की। अदालत ने कुमार को 10 जुलाई तक बलपूर्वक कार्रवाई से सुरक्षा प्रदान की है, लेकिन उनसे कोलकाता नहीं छोड़ने को कहा है। अदालत ने कुमार से जारी जांच में एजेंसी के साथ सहयोग करने को कहा है। (इंपुट: IANS के साथ)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here