कावेरी जल विवाद: सुप्रीम कोर्ट ने सुनाया फैसला, कर्नाटक को 14.75 TMC ज्यादा पानी मिलेगा

0

कर्नाटक, केरल और तमिलनाडु के बीच दशकों से चल रहे कावेरी जल विवाद पर सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार(16 फरवरी) को फैसला सुना दिया है।

मोदी
फाइल फोटो- सुप्रीम कोर्ट

नवभारतटाइम्स.कॉम की रिपोर्ट के मुताबिक, सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में कहा कि नदी के पानी पर किसी भी राज्य का मालिकाना हक नहीं है। सुप्रीम कोर्ट ने कावेरी जल विवाद ट्राइब्यूनल (CWDT) के फैसले के मुताबिक तमिलनाडु को मिलने वाले पानी में कटौती की है तो बेंगलुरु की जरूरतों का ध्यान रखते हुए कर्नाटक को मिलने वाले पानी की मात्रा में 14.5 टीएमसी का इजाफा किया है।

रिपोर्ट के मुताबिक, सीजेआई दीपक मिश्रा की अगुआई वाली तीन जजों की बेंच ने अपने आदेश में कहा है कि तमिलनाडु को 177.25 टीएमसी पानी दिया जाए। CWDT ने तमिलनाडु को 192 टीएमसी पानी देने का फैसला दिया था। सुप्रीम कोर्ट ने केरल को 30 टीएमसी पानी देने का आदेश दिया है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि फैसले को लागू कराना केंद्र सरकार का काम है।

ख़बर के मुताबिक, कर्नाटक और तमिलनाडु में तनाव का माहौल है। कावेरी नदी के पानी के बंटवारे को लेकर मुख्य तौर पर तमिलनाडु और कर्नाटक के बीच विवाद है। कावेरी नदी कर्नाटक के कोडागु जिले से निकलती हैं और तमिलनाडु के पूमपुहार में बंगाल की खाड़ी में जाकर गिरती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here