देखिए कैसे, कैप्टन बनने के बाद पहली बार गांव आने पर लोगों ने शहीद कपिल कुंडू का किया था जोरदार स्वागत

0

रविवार (4 फरवरी) को जम्मू-कश्मीर के राजौरी जिले में पाकिस्तानी की तरफ से की गई गोलीबारी में शहीद हुए कैप्टन कपिल कुंडू का पार्थिव शरीर सोमवार रात 9 बजे के करीब उनके गुरुग्राम स्थित उनके पैतृक स्थान पहुंचा। पटौदी के रनसिका गांव के निवासी कैप्टन कपिल कुंडू को सोमवार रात अंतिम विदाई देने पूरा गांव उमड़ पड़ा। कैप्टन कपिल कुंडू की शहादत से गुरुग्राम में उनका परिवार सदमे में है।

कपिल कुंडू
photo- PTI

वीर सपूत की एक झलक पाने के लिए सड़क पर लोगों की भीड़ जमा हो गई, कपिल कुंडू को पूरे राजकीय सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी गई। अपने दोस्त के कैप्टन बनने पर कंधों पर उठाने वाले दोस्तों ने कपिल कुंडू अमर रहे और भारत माता की जय के नारे लगाए।

इससे पहले दिल्ली के पालम एयरपोर्ट पर रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण, सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत व सेना के कई अफसरों ने तिंरगे में लिपटे कैप्टन के पार्थिव शरीर पर पुष्प च्रक अर्पित कर श्रद्धांजलि दी।

जम्मू-कश्मीर के राजौरी जिले के बीजी सेक्टर में तैनात 22 वर्षीय कैप्टन कपिल कुंडू 10 फरवरी को अपना 23वां जन्मदिन मनाने के लिए घर आने वाले थे। वह अपनी मां और छोटी बहन के साथ जन्मदिन मनाना चाहते थे।

एबीपी न्यूज़ से बात करते हुए शहीद कैप्टन कपिल की मां ने कहा कि कपिल के अंदर देशभक्ति का जज्बा कूट-कूटकर भरा था। एनडीए में ट्रेनिंग के दौरान भी उनके जोशीले और देशप्रेम के व्यवहार से हर कोई परिचित था, बचपन से ही वह देश की सेवा करना चाहते थे।

एबीपी न्यूज़ की रिपोर्ट के मुताबिक, कैप्टन कपिल अपने माता-पिता के इकलौते बेटे थे। करीब छह साल पहले कपिल के पिता भी शहीद हो गए थे, कपिल की दो बहनें हैं।

शहीद कैप्टन कपिल कुंडू हरियाणा में गुरुग्राम के पटौदी इलाके के रहने वाले थे, एनडीए पास करने के बाद कैप्टन कुंडू ने सेना ज्वाइन की थी। कैप्टन बनने के बाद कपिल कुंडू कुछ दिन पहले ही अपने गांव रणसिका गए थे, जहां गांववालों ने उनका जोरदार स्वागत किया था। जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

इस वीडियो में दिख रहा है कि, सड़क किनारे कुछ लोग कैप्टन कपिल का फूलों के साथ जोरदार स्वागत कर रहें है। उनपर बड़े ही जोर-शोर के साथ फूल बरसाएं जा रहें है इतना ही नहीं उनके कुछ दोस्त उनको अपने कंधों पर उठाकर कैप्टन कपिल का स्वागत कर रहें है।

देखिए वीडियो :

कैप्टन बनने के बाद पहली बार गांव आने पर लोगों ने शहीद कपिल कुंडू का किया था जोरदार स्वागत

देखिए कैसे, कैप्टन बनने के बाद पहली बार गांव आने पर लोगों ने शहीद कपिल कुंडू का किया था जोरदार स्वागतhttp://www.jantakareporter.com/hindi/captain-kapil-kundu/171877/

Posted by जनता का रिपोर्टर on Monday, 5 February 2018

बता दें कि दो दिन पहले जम्मू कश्मीर के राजौरी और पुंछ जिलों में नियंत्रण रेखा से लगते इलाकों में पाकिस्तान की ओर से की गई गोलीबारी में कैप्टन कपिल कुंडू के अलावा तीन अन्य सैनिक रामावतार, शुभम सिंह और रोशन लाल शहीद हो गए थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here