आतंकी नहीं देशभक्त और धर्मात्मा आदमी था बुरहान वानी: पीडीपी

1

कश्मीर की सत्ताधारी पार्टी पीपल्स डेमोक्रेटिक फ्रंट (PDP) के विधायक मुश्ताक अहमद शाह ने हिजबुल मुजाहिदीन के कमांडर बुरहान वानी को आतंकी मानने से इंकार किया है। बल्कि उन्हें उसे आतंकी की जगह पर धर्मात्मा बताया है।

मुश्ताक ट्राल से विधायक हैं। इसी इलाके में बुरहान वानी का घर भी है। इंडियन एक्सप्रेस से बात करते हुए अहमद ने कहा, ‘वह आतंकी नहीं था। लोग उसे इसलिए पंसद करते थे क्योंकि वह महान था और धर्मात्मा के चरित्र वाला था। हमारी पार्टी की उन लोगों से कोई दुश्मनी नहीं है जो बुहरान वानी की मौत पर दुखी हैं। बल्कि हम तो मानते हैं कि बुरहान की मौत से अलगाववादियों को एक नई ताकत मिल गई है।’

burhan 1 (2)

मुश्ताक ने बताया कि 8 जुलाई को बुरहान का एनकाउंटर होने के बाद से वह ट्राल नहीं जा पाए हैं। उन्होंने कहा, ‘कश्मीर का मुद्दा बुरहान की मौत से खत्म नहीं हुआ बल्कि यह और सुलग गया। अब हर राजनीतिक पार्टी, हर संस्था कश्मीर के मुद्दे को अपने ढंग से देख रही है।’

मुश्ताक ने नेशनल कॉन्फ्रेंस और कांग्रेस की गठबंधन सरकार पर भी आरोप लगाए। उनका कहना था कि बुरहान पिछली सरकार द्वारा सताए जाने और शोषण होने पर ऐसा बना था। मुश्ताक ने कहा, ‘सभी जानते हैं कि नेशनल कॉन्फ्रेंस युवाओं को थाने में जबरन बंद करवा देती थी और उनपर अत्याचार करती थी।’

(With inputs from Jansatta)

  • Amit

    Perhaps, It’s ‘त्राल’ not ‘ट्राल’.