शर्मनाक हुई इंसानियत, मुख्यमंत्री के क्षेत्र में साइकिल पर अपने भाई का शव ले जाते हुए व्यक्ति की तस्वीर हुई वायरल

0

असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल के विधानसभा क्षेत्र से इंसानियत को शर्मशार करने वाली तस्वीर सामने आई है।असम के लखीमपुर जिले में एक युवक को अपने 18 साल के भाई का शव साइकिल पर लाद कर ले जाते हुए तस्वीर सामने आई है।

photo- ANI

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, बताया जा रहा है कि गांव की सड़क इतनी खराब है कि कोई भी गाड़ी वाला उसके भाई के शव को ले जाने के लिए तैयार नहीं हुआ। आखिरकार उसने भाई के शव को कपड़ों में लपेटकर साइकिल पर रख लिया और उसे लेकर निकल पड़ा। स्थानीय चैनल पर मंगलवार को इस तस्वीर के सामने आते ही सीएम सोनोवाल ने मामले की जांच के आदेश दे दिए है।

Also Read:  'पद्मावती' सती प्रथा कानून का उल्लंघन करती है, इसकी रिलीज रोक देनी चाहिए: अनिल विज

जांच के आदेश दिए जाने के बाद स्थानीय अधिकारियों का कहना है कि, मृतक लखीमपुर जिले के बालिजान गांव का रहने वाला है और उसके गांव से अस्पताल 8 किलो मीटर दूर है। मृतक के भाई ने अस्पताल के ड्राइवर का इंतजार नहीं किया और लाश का साइकिल पर बांधकर ले गया।

Also Read:  अगर हाजी अली में तृप्ति देसाई आई, तो चप्पलों से होगी पिटाई: शिवसेना नेता

इंडियन एक्सप्रेस की ख़बर के मुताबिक, इस घटना पर मजुली के डिप्टी कमिश्नर पीजी झा का कहना है कि, मृतक के गांव बालीजान में जाने के लिए ऐसी सड़क नहीं है कि वहां गाड़ी ले जाया जा सके। इस गांव में जाने के लिए बांस के अस्थायी पुल से भी गुजरना होता है।

Also Read:  दिल्ली सरकार vs उपराज्यपाल: अब सुप्रीम कोर्ट की संवैधानिक पीठ करेगी फैसला

सीएम सोनोवाल ने मामले को गंभीरता से लेते हुए तत्काल स्वास्थ्य सेवा के निदेशक को आदेश दिया कि वो मजुली जाकर घटना की जांच करें। असम का लखीमपुर जिला मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल का विधानसभा क्षेत्र में आता है।आपको बता दें कि इससे पहले भी ऐसा मामला देखने को मिल चुका है, ओडिशा के कालाहांडी जिले में पत्नी का शव कंधे पर लेकर 10 किलोमीटर तक चलने वाले आदिवासी दाना मांझी की तस्वीर ने पूरी दुनिया को हिला दिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here