ब्रिटिश मीडिया वॉचडॉग ऑफकॉम ने अर्नब गोस्वामी के रिपब्लिक टीवी पर लगाया 20 लाख रुपये का जुर्माना, पाकिस्तानी लोगों के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी करने का आरोप

0

ब्रिटिश मीडिया वॉचडॉग ऑफकॉम ने अर्नब गोस्वामी के रिपब्लिक टीवी पर अभद्र भाषा को बढ़ावा देने के लिए 20 हजार यूरो (लगभग 20 लाख रुपये के बराबर) का जुर्माना लगाया है। ‘हेट स्पीच’ मामले में नियमों के उल्लंघन को लेकर यह जुर्माना लगाया गया है। इसके साथ ही भविष्य में इसी तरह की गलती को नहीं दोहराने के लिए रिपब्लिक भारत को चेतावनी भी दी।

अर्नब गोस्वामी
फाइल फोटो

मंगलवार को वर्ल्डव्यू मीडिया नेटवर्क लिमिटेड के खिलाफ आदेश जारी करते हुए ऑफिस ऑफ कम्युनिकेशन्स ने कहा, ‘पूछता है भारत शो में बहुत सारी बिना मतलब की हेट स्पीच है और यह बहुत ही भड़काऊ है। यह नियम 2.3, 3.2 और 3.3 का उल्लंघन करता है।’ ब्रिटिश वॉचडॉग ने कहा कि, हमारे लिए किए गए लिखित अभ्यावेदन पर विचार करने के बाद ऑफकॉम ने 20 हजार यूरो का जुर्माना लगाने का निर्णय लिया हैं। बता दें कि, अर्नब गोस्वामी का रिपब्लिक टीवी हमेंशा अपने विवादित शो को लेकर चर्चा में बना रहता हैं।

ऑफकॉम ब्रॉडकास्टिंग कोड के नियम 2.3 के मुताबिक किसी ब्रॉडकास्टर को सुनिश्चित करना चाहिए कि कोई भी भड़काऊ बात कॉन्टेक्स्ट को जस्टिफाइ करनी चाहिए। किसी धर्म या मान्यता के खिलाफ भेदभावपूर्ण और गलत भाषा का इस्तेमाल नहीं होना चाहिए। नियम 3.2 के मुताबिक हेटस्पीच वाले पार्ट को ब्रॉडकास्ट नहीं करना है। अगर कॉन्टेक्स्ट जस्टिफाइड हो तो इसे चलाया जा सकता है। नियम 3.3 के मुताबिक किसी व्यक्ति, ग्रुप धर्म या समुदाय के खइलाफ आपत्तिजनक और भद्दी टिप्पणी को ब्रॉडकास्ट नहीं करना है।

कार्यक्रम 6 सितंबर को रिपब्लिक भारत पर प्रसारित किया गया था जब गोस्वामी ने तीन भारतीय और तीन पाकिस्तानी मेहमानों के साथ एक टीवी बहस आयोजित की थी। कॉम के अनुसार, यह बहस 22 जुलाई 2019 को चंद्रयान 22 अंतरिक्ष यान को चंद्रमा पर भेजने के भारत के असफल प्रयास पर चर्चा कर रही थी।

ऑफकॉम ने कहा कि, कार्यक्रम के कुछ मेहमानों ने यह विचार व्यक्त किया कि सभी पाकिस्तानी लोग आतंकवादी हैं, जिनमें उनके वैज्ञानिक, डॉक्टर, उनके नेता, राजनेता सभी शामिल हैं। यहां तक ​​कि उनके खेल के लोग, हर बच्चा वहां पर आतंकवादी है। आप एक आतंकवादी इकाई के साथ काम कर रहे हैं। एक अतिथि ने पाकिस्तानी वैज्ञानिकों को “चोर” तक बता दिया था, जबकि दूसरे ने पाकिस्तानी लोगों को “भिखारी” बताया। मेहमानों ने पाकिस्तान / या पाकिस्तानी लोगों को संबोधित करते हुए कहा, “हम वैज्ञानिक बनाते हैं, आप आतंकवादी बनाते हैं।”

आदेश में कहा गया है कि पाकिस्तानी लोगों के खिलाफ कार्यकर्म में आपत्तिजनक और अपमानजनकर टिप्पणी की गई है। उनके अपमान का आधार केवल उनकी नागरिकता थी। इसमें कहा गया, ‘कार्यक्रम में कही गई बातों से किसी की भी भावनाओं को ठेस पहुंच सकता है। ऑफकॉम की नजर में यह अपराध है, पूछता है भारत शो में बिना कॉन्टेक्स्ट लोगों का अपमान किया गया है। पाकिस्तानी लोगों के खिलाफ यह हेट स्पीच का मामला है। भारत और पाकिस्तान के लोगों के बीच यह भेदभाव को बढ़ाने वाला है।’

वर्ल्डवाइड मीडिया के खिलाफ एक ही ब्रॉडकास्ट को लेकर जुर्माना लगाया गया है। कंपनी ने फैसला लिया है कि भविष्य में वह नियमों का पालन करने की कोशिश करेगी और कुछ डिबेट का लाइव ब्रॉडकास्ट नहीं करेगी। आदेश में यह भी कहा गया है कि मीडिया कंपनी ने माना है कि जानबूझकर नियमों का उल्लंघन नहीं किया गया। रिपब्लिक भारत के सीनियर मैनेजमेंट को भी यह बात नहीं पता है। ऑफकॉम ने दो महीने का नोटिस दिया है और कहा है कि अपने ब्रॉडकास्ट को नियंत्रित करें क्योंकि पाकिस्तानी लोगों के लगातार फोन आ रहे हैं और वे इसपर आपत्ति जता रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here