…जब बोस्निया के ‘युद्ध अपराधी’ ने कोर्ट के अंदर ही पी लिया जहर, हुई मौत

0

द हेग में चल रही सुनवाई के दौरान उस वक्त सब लोग हैरान रह गए जब बोस्निया-क्रोएशिया के युद्ध अपराधी स्लोबोदान प्रालजैक (72) ने कोर्ट के अंदर ही जहर पी लिया, जिसके बाद उसकी मौत हो गई। स्लोबोदान बोस्निया-क्रोएशिया के उन छह राजनीतिक और सैन्य नेताओं में से थे, जिनकी सुनवाई हेग में अंतरराष्ट्रीय क्रिमिनल ट्राइब्यूनल (ICTY) में चल रही थी।बीबीसी के मुताबिक, अदालत में 20 साल की सजा बरकरार रखने के फैसले के ऐलान के बाद इस बोस्नियाक्रोएशिया बल के पूर्व कमांडर ने कहा कि वह युद्ध अपराधी नहीं है और उसने जहर पी लिया। साल 2013 में उसे 1992-1995 के दौरान बोस्निया युद्ध के दौरान मोस्टार शहर में युद्ध अपराधों के लिए सजा सुनाई गई थी।

फैसले के बाद जनरल प्रालजैक खड़े हुए और अपना हाथ मुंह पर लगा लिया, सिर पीछे किया। उन्हें देखकर ऐसा लगा, जैसे उन्होंने जहर पी लिया। इसके बाद प्रालजैक ने कहा कि, “मैंने जहर पी लिया है।” जज कार्मेल एगियस ने तुरंत कार्यवाही रोक दी और एंबुलेंस बुलाई। उन्होंने कहा कि, “ठीक है, हम सुनवाई रोकते हैं। उस गिलास को मत हटाओ, जिससे उसने पीया है।”

इसके बाद अदालत के बाहर एंबुलेंस आई। घटनास्थल के ऊपर ही हेलीकॉप्टर को भी मंडराते देखा गया। डॉक्टरों की टम तेजी से इमारत के अंदर घुसी। बीबीसी ने सूत्रों के हवाले से बताया कि, “प्रालजैक को तुरंत अस्पताल ले जाया गया, जहां उसने दम तोड़ दिया।” अब इस मामले की स्वतंत्र जांच चल रही है।

बता दें कि इस युद्ध में स्लोबदान उन लोगों में शामिल थे। जिन्होंने 90 के दश में मुसलमानों को बोस्निया-क्रोएशिया से अलग रखने के लिए युद्ध किया था। जिसमें कई मुसलमानों को मारा गया था। इस आरोप के लिए 2004 में नीदरलैंड कोर्ट ने उसे 20 साल की सजा सुनाई थी।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here