एम्स में पकड़ा गया फर्जी डॉक्टर, शक के आधार पर गार्ड ने कि पहचान

0

देश के सबसे बड़े अस्पताल एम्स में फर्जी डॉक्टर पकड़े जाने की घटना सामने आई है। गुरुवार को एक फर्जी असिस्टेंट प्रोफेसर पकड़ा गया है, जो फर्जी आईकार्ड के माध्यम से एम्स के ब्वायज होस्टल में प्रवेश करने का प्रयास कर रहा था।थाना हौजखास पुलिस ने एम्स में फर्जी डॉक्टर को गिरफ्तार कर मामले कि जांच शुरु कर दी है।

एम्स में पकड़ा गया फर्जी डॉक्टर

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक,यह फर्जी डॉक्टर एम्स के सर्जरी विभाग के अस्टिेंट प्रोफेसर का नकली कार्ड गले में डालकर घूमता था। जब वह अपना वाहन डॉक्टर पार्किंग में खड़ा कर रहा तो अस्पताल के गार्ड को इसके हावभाव पर शक हुआ, लेकिन फर्जी डॉक्टर डरा नहीं, बल्कि गार्ड को जमकर धमकाया। गार्ड ने जब उसका कार्ड देखा तो अपने सीनियर सिक्योरिटी स्टाफ से संपर्क किया। इसके बाद प्रशासन हरकत में आया और नितिन अग्रवाल नाम के इस फर्जी डॉक्टर को पुलिस ने तुरंत गिरफ्तार कर लिया।

एम्स प्रशासन और पुलिस की मानें तो यह शख्स पिछले काफी लंबे समय से यहां पर आता रहा है। वह मैट्रोनिक्स नाम की दवाई कंपनी में एमआर है, जिसके चलते डॉक्टर स्टाफ से आसानी से मिलजुल भी लेता था। पुलिस ने इस फर्जी डॉक्टर के खिलाफ आईपीसी की धारा 419 /468/471 के तहत मामला तो दर्ज कर लिया है। बता दें कि, इससे पहले जनवरी के आखिरी सफ्ताह में और फरवरी के पहले सप्ताह में भी फर्जी डॉक्टर पकड़े गए थे।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here