AAP के ‘बागी’ विधायक कपिल मिश्रा जल्द थाम सकते हैं BJP का दामन, केंद्रीय मंत्री विजय गोयल ने दिए संकेत

0

दिल्ली में सत्ताधारी आम आदमी पार्टी (बीजेपी) के बागी नेता कपिल मिश्रा जल्द ही भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) का दामन थाम सकते हैं। दरअसल कपिल मिश्रा ने सोमवार (4 जून) को केंद्रीय मंत्री विजय गोयल से मुलाकात की है, जिसके बाद कपिल मिश्रा के बीजेपी में शामिल होने की अटकलें तेज हो गई हैं। विजय गोयल रविवार को कपिल मिश्रा से मिलने उनके आवास पर पहुंचे और कहा कि उनके लिए बीजेपी के दरवाजे खुले हैं।

Photo: @VijayGoelBJP

समाचार एजेंसी भाषा के मुताबिक मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली सरकार के पूर्व मंत्री कपिल मिश्रा से मुलाकात के बाद केंद्रीय मंत्री विजय गोयल ने कहा कि बीजेपी के दरवाजे उनके लिए खुले हैं। गोयल का यह दौरा 2019 के लोकसभा चुनाव के लिए बीजेपी के राष्ट्रीय अभियान ‘समर्थन के लिए संपर्क’ का हिस्सा था। केंद्रीय मंत्री ने मिश्रा से मिलने के बाद संवाददाताओं से कहा, ‘जब से मिश्रा आप से अलग हुए हैं, बीजेपी के दरवाजे उनके लिए खुले हैं’।

गोयल ने मिश्रा के सामाजिक कार्यों और सकारात्मक रवैये की जमकर प्रशंसा की। केंद्रीय मंत्री ने कहा, ‘हमें कपिल मिश्रा जैसे दोस्तों की जरूरत है’। वहीं, कपिल मिश्रा ने भी विजय गोयल का गर्मजोशी से स्वागत किया और कहा कि जिस तरह से 2019 से पहले सभी कौरव एक साथ मिल रहे हैं तो पांडवों को भी मिलने की जरूरत है। विजय गोयल से मुलाकात के बाद मिश्रा ने ट्वीट कर लिखा, “हमारे घर आने के लिए शुक्रिया, आपकी सादगी और संदेश से सभी बहुत प्रभावित हुए, जब कौरव इकठ्ठा हो रहे हैं तो पांडव भी जरूर इकट्ठा होंगे ही।”

बता दें कि पिछले साल मुख्यमंत्री केजरीवाल ने मिश्रा को दिल्ली सरकार से बाहर निकाल दिया था। इसके बाद मिश्रा ने केजरीवाल और दिल्ली के मंत्री सत्येंद्र जैन पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए थे।  गौरतलब है कि आम आदमी पार्टी के बागी विधायक कपिल मिश्रा को पिछले दिनों विधानसभा में अध्यक्ष की कुर्सी के पास जाकर हंगामा करने की वजह से सदन से बाहर निकाल दिया गया था।

वह सदन में रामनवमी के जुलूस के नाम पर सांप्रदायिक अशान्ति पैदा करने की कोशिश पर विधानसभा में होने वाली चर्चा को कार्यसूची से बाहर करने की मांग कर रहे थे। इसके बाद नेता प्रतिपक्ष विजेंद्र गुप्ता सहित सभी चार बीजेपी विधायकों ओपी शर्मा, एम एस सिरसा और जगदीश प्रधान भी सदन से बाहर निकल गए थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here