उत्तराखंड: नौकरी का झांसा देकर BJP नेत्री चला रही थी सेक्स रैकेट, हुई फरार

0
उत्तराखंड के रुड़की जिले में गंगनहर कोतवाली पुलिस और एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट ने छापा मारकर सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ किया है, पुलिस ने मौके पर दो महिलाओंं समेत चार लोगों को गिरफ्तार किया है। छापेमारी की इस कार्रवाई में पुलिस को मौके से एक डायरी और कुछ मोबाइल फोन भी मिले है। इस पूरे मामले में एक महिला बीजेपी नेता का नाम सामने आ रहा है जिसे इस रैकेट की संचालिका बताया जा रहा है।
सेक्स रैकेट
photo- eenaduindia
मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस अधिकारियों का कहना है कि कुछ और लोगों की भी छानबीन की जा रही है। पुलिस को पिछले लंबे समय से रुड़की के प्रेमनगर मे सेक्स रैकेट चलने की सूचना मिल रही थी। इस मामले मे कुछ और गिरफ्तारियां भी हो सकती है। सेक्स रैकेट की संचालिका एक बीजेपी नेत्री हेमा रावल बताई जा रही है, जो अभी फरार है।पुलिस के मुताबिक, सेक्स रैकेट चलने की सूचना मिलने के बाद हमने एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट के साथ मकान पर छापा मारा।
साथ ही पुलिस ने बताया कि, छापेमारी में हमें दो महिला और दो पुरुष आपत्तिजनक हालत में मिले, पुलिस की टीम को देखकर उन्होंने भागने की कोशिश की लेकिन हमारी टीम ने मौके पर उन्हें दबोच लिया। पकड़े गए आरोपियों में बॉबी निवासी तांशीपुर कोतवाली मंगलौर और यशपाल निवासी थिथकी कोतवाली मंगलौर का रहने वाला है।

ख़बरों के अनुसार, पूछताछ में पीड़ित युवती ने पुलिस को बताया है कि सैक्स रैकेट की संचालिका हेमा रावल नौकरी का झांसा देकर उसे सहारनपुर से रुड़की लाई थी और उसे जबरदस्ती देह व्यापार मे धकेला जा रहा था। फिलहाल पलिस मामले की जांच कर रही है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, इस सेक्स रैकेट में हेमा रावल का नाम सामने आने के बाद बीजेपी जिलाध्यक्ष डॉक्टर कल्पना सैनी ने कहा कि उन्होंने तत्काल प्रभाव से हेमा रावल की भाजपा से प्राथमिक सदस्यता समाप्त कर दी है और उसे पार्टी से 6 वर्ष के लिए निष्कासित कर दिया है। उन्होंने कहा कि भाजपा एक साफ-सुथरी पार्टी है और ऐसे गलत किस्म के लोगों के लिए पार्टी में कोई जगह नहीं है।

"
"

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here