पेट्रोल-डीजल की आसमान छूती कीमतों की सच्चाई बताने के चक्कर में बुरी फंसी BJP, सोशल मीडिया पर हुई ट्रोल

1

पेट्रोल-डीजल की आसमान छूती कीमतों के खिलाफ कांग्रेस के नेतृत्व में 16 विपक्षी दलों के नेताओं ने सोमवार (10 सितंबर) को एक मंच पर आकर केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार को घेरा और आगामी लोकसभा चुनाव में एकजुट होकर लड़ने एवं भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) को हराने का आह्वान किया। कांग्रेस द्वारा आहूत ‘भारत बंद’ के तहत आयोजित विरोध प्रदर्शन में ज्यादातर विपक्षी पार्टियों के नेता एक मंच पर आए और मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला।

@BJP4India

इस बीच तेल की कीमतों को लेकर अब कांग्रेस और बीजेपी के बीच सोशल मीडिया पर भी जंग शुरू हो गई है। तेल की कीमतों को लेकर बीजेपी के आधिकारिक ट्वीटर हैंडल से एक ग्राफिक्‍स चार्ट जारी किया गया, जिसमें पेट्रोल-डीजल की कीमतों में वृद्धि दर का आंकड़ा दिया गया है। हालांकि इस ग्राफिक्स में एक गलती की वजह से बीजेपी सोशल मीडिया पर लोगों के निशाने पर आ आई है।

दरअसल, पेट्रोल के दाम को लेकर बीजेपी के ग्राफ में 80.73 रुपये के बार की ऊंचाई को 40.62 रुपये के बार की ऊंचाई से भी कम दिखाया गया है जिसके कारण पार्टी को जमकर ट्रोल किया जा रहा है।

इसी तरह डीजल के दामों को लेकर भी बीजेपी के ग्राफ में 72.83 रुपये के बार की ऊंचाई को 30.86 रुपये के बार की ऊंचाई से भी कम दिखाया गया है जिसके कारण पार्टी सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर आ गई है। हालांकि ट्रोल होने के बाद अब बीजेपी ने इस पर सफाई देते हुए कहा कि ग्राफिक्स बार को प्रतिशत के आधार पर छोटा-बड़ा रखा गया है, कीमतों के आधार पर नहीं है।

कांग्रेस का पलटवार

बीजेपी का दावा है कि एनडीए के समय पेट्रोल की कीमतें 75.8 प्रतिशत से घटकर 13 प्रतिशत पर आग गई, जबकि डीजल कीमतें एनडीए के समय 83.7 प्रतिशत से घटकर 28 प्रतिशत पर आग गई है। इसलिए आखिर में ग्राफिक्‍स बार को कम रखा गया है। वहीं, कांग्रेस ने इसका जवाब बीजेपी के आंकड़ो में ही कच्चे तेल की कीमतों को जोड़ते हुए दिया गया है। इसके अलावा कांग्रेस ने कई अन्य ट्वीट कर बीजेपी पर हमला बोला है।

देखिए, सोशल मीडिया पर लोगों के रिएक्शन

बीजेपी द्वारा जारी किए पेट्रोल-डीजल के इस ग्राफिक्स पर सोशल मीडिया यूजर्स अपने-अपने अंदाज में ट्वीट कर मजा ले रहे हैं। विश्‍वजीत कुमार नाम के एक यूजर ने लिखा है, ‘72.83 का ग्राफ 56.71 से छोटा कैसे हो गया कोई समझएगा।’ वहीं, प्रदीप गुप्‍ता ने लिखा है, ‘वाह क्या बात है! क्या पकड़ है आप लोगो की अर्थशास्त्र में मानना पड़ेगा।’ जबकि शशंक गोयल ने ट्वीट करके बताया है कि सही ग्राफ ऐसा है और इसे ऐसे दिखाना चाहिए। अमित मिश्रा नाम के अन्य यूजर ने लिखा है, ‘देश की जनता को अपनी गलती का एहसास है…. अब देश की जनता यह गलती दोबारा नहीं करेगी।’

 

Pizza Hut

1 COMMENT

  1. Ravish kumar sir ne sahi kaha tha ke jo math me fail hai wahi es aakre ko samajh sakta hai, Aisa % samajhna kisi padhe likhe logo ke bas ke bahar hai, Jaise BJP ke mantriyon ki baate samajhna.

    Padhe likhe log ye kabhi nahi samjh sakte ke morni ke ansu chug ke mori garbhavati hoti hai, Batakh apne pichhuware se oxygen chorta hai, Gaye apne CO2 leti hai aur oxygen chorti hai, Gaye ka gobar kohinoor hire se jayada kimti hota hai, Darvin ka niyam galat hai insan hamesha insan hi tha bandar nahi tha wo bhi bina padhe likhe, agar koi bandar pareshan kare to hanuman chalisa padho.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here